IND vs SA:आखिरी वनडे मैच कल, टीम इंडिया की नजर बेंच स्‍ट्रेंथ को आजमाने और दक्षिण अफ्रीका की प्रतिष्‍ठा बचाने पर..

0
494

सेंचुरियन: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच छह वनडे मैचों की सीरीज का अंतिम मैच शुक्रवार को खेला जाएगा. सीरीज में ऐतिहासिक जीत हासिल कर चुकी भारतीय टीम के लिए जहां यह मौका अपनी बेंच स्ट्रेंथ को आजमाने का होगा , वहीं मेजबान टीम इस मैच में जीत हासिल कर अपनी प्रतिष्ठा को एक हद तक बरकरार रखने में कोई कसर बाकी नहीं रखेगी. भारतीय टीम छह मैचों की सीरीज में पहले ही 4-1 की अजेय बढ़त हासिल कर चुकी है. सीरीज में उसे एकमात्र जीत वर्षा से बाधित चौथे वनडे मैच में मिली थी. पिछले मैच में मिली जीत के साथ ही टीम इंडिया ने आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर वन का स्थान दक्षिण अफ्रीका से छीन लिया है.
जैक कालिस ने आक्रामकता के मामले में विराट कोहली को दी यह सलाह..
भारत उसी लय को कायम रखने के इरादे से उतरेगा क्योंकि इसके बाद टी20 सीरीज भी तुरंत होनी है. इसके साथ ही इस साल लंबे विदेशी सत्र को ध्यान में रखते हुए कप्तान विराट कोहली बेंच स्ट्रेंथ को भी आजमाना चाहेंगे. भुवनेश्वर कुमार ने श्रीलंका में सीमित ओवरों की सीरीज के बाद से लगातार खेला है जिसमें 19 वनडे, छह टी20 मैच और दो टेस्ट शामिल हैं. जसप्रीत बुमराह भी 20 वनडे और आठ टी20 खेल चुके हैं. टेस्ट सीरीज खेलने के बाद से उनका कार्यभार और बढ़ गया है. इन दोनों को आराम की जरूरत है, लेकिन यह देखना दिलचस्‍प होगा कि विराट दूसरे तेज गेंदबाजों में भरोसा जता पाते हैं या नहीं.
शॉन पोलाक ने बताया, क्‍यों कोहली के पसंदीदा खिलाड़ी हैं हार्दिक पंड्या..
श्रीलंका दौरे के बाद से भारत ने 20 वनडे खेले हैं और भुवनेश्वर-बुमराह की जोड़ी सिर्फ एक में बाहर रही जो बेंगलूरू में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया था. टीम इंडिया की इन दोनों पर निर्भरता बढ़ती जा रही है लेकिन वर्ल्‍डकप 2019 को ध्यान में रखते हुए टीम प्रबंधन निश्चित ही दूसरे गेंदबाजों को आजमाना चाहेगा. मोहम्मद शमी ने वर्ल्‍डकप 2015 के बाद सिर्फ तीन वनडे खेले हैं. चोट से लौटने के बाद उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पिछले साल दो और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक मैच खेला. मौजूदा टीम में चौथे तेज गेंदबाज शरदुल ठाकुर ने दो वनडे ही खेले हैं. भारत को भुवनेश्वर और बुमराह से आगे भी तेज आक्रमण के बारे में सोचना होगा ।

भारत के लिए मध्यक्रम की बल्‍लेबाजी पर भी गौर करने की जरूरत है. इस सीरीज में चौथे से सातवें नंबर के बल्लेबाजों के बीच सिर्फ एक अर्धशतक बना है. अजिंक्य रहाणे ने डरबन में अर्धशतक बनाया जबकि एमएस धोनी ने वांडरर्स पर 43 गेंद में नाबाद 42 रन बनाए. श्रेयस अय्यर दोनों मैचों में अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में नहीं बदल सके. रहाणे नंबर चार पर विफल रहे जबकि हार्दिक पंड्या चार मैचों में 26 रन ही बना सके ।भारत के लिये शीर्ष क्रम ने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन मध्यक्रम अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतर सका. मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक को टीम में होते हुए अभी तक एक भी मैच नहीं मिला है. भारतीय टीम ने आज अभ्यास नहीं किया.
वीडियो: गावस्‍कर ने विराट की इस अंदाज में की प्रशंसा
दोनों टीमें इस प्रकार हैं..
भारत: विराट कोहली ( कप्तान ), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, शरदुल ठाकुर.
दक्षिण अफ्रीका: एडेन मार्करेम ( कप्तान) , हाशिम अमला, जेपी डुमिनी, इमरान ताहिर, डेविड मिलर, मोर्नी मोर्कल, क्रिस मौरिस, एल एंगिडि, एंडिले पी, कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, के जोंडो, फरहान बेहार्डियेन, हेनरिच क्लासेन, एबी डिविलियर्स.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.