मक्कल नीति मैय्यमः कमल हासन की राजनीति में धमाकेदार एंट्री, बोले- अब सितारा नहीं ‘दीपक’ हूं

0
173

राजनीतिक दल के ऐलान के साथ प्रसिद्ध अभिनेता कमल हासन ने बुधवार को अपनी सियासी पारी शुरू कर दी। हासन ने पार्टी का नाम ‘मक्कल नीति मैय्यम’ रखा है। इसके साथ ही उन्होंने अपनी पार्टी के झंडे का अनावरण भी किया।
एमएनएम का हिंदी में मतलब लोक न्याय पार्टी होता है। इस मौके पर अभिनेता कमल हासन ने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को अपना आदर्श बताते हुए कमल ने अपनी पार्टी को ‘लोगों की पार्टी’ करार दिया। कमल ने कहा, आपको आज की राजनीतिक व्यवस्था के लिए एक उदाहरण होना चाहिए और मैं आपको भाषण देने के बजाय आपके सुझावों की मांग करूंगा। मदुरै में शाम को हुई पार्टी की पहली बड़ी जनसभा में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आप के तमिलनाडु प्रमुख सोमनाथ भारती भी मौजूद थे।
पूर्व राष्ट्रपति कलाम के भाई से आशीर्वाद लिया
अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत के लिए तमिल सुपरस्टार कमल हासन ने आस्था की स्थली रामेश्वरम को चुना है। कमल हासन बुधवार की सुबह रामेश्वरम में पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के घर पर पहुंचे।
यह कमल हासन ने कलाम मेमोरियल हाउस में पूर्व राष्ट्रपति कलाम के भाई और भाभी से मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया। हासन ने कलाम के 90 वर्षीय भाई मोहम्मद मुथुइमीरा लेब्बाई मारिक्कायार से बातचीत की। रामेश्वरम में उनकी नई पार्टी के 700 सदस्य उनके साथ थे।
इस मौके पर कमल हासन ने ट्वीट करके कहा, महानता साधारण शुरुआत से आती है। मुझे खुशी हो रही है कि मैं अपने सफर की शुरुआत एक महान आदमी के घर से कर रहा हूं। रामेश्वरम पहुंचे कमल हासन ने वहां के मछुआरों के साथ एक बैठक कर उनकी समस्याएं सुनीं।
स्कूल में जाने से रोका
कमल हासन दिन में उस स्कूल का भी दौरा करने वाले थे जहां कलाम ने पढ़ाई की थी, पर उन्हें प्रशासन की ओर से उस स्कूल में जाने की अनुमति नहीं मिली। इसके बाद उन्हें अपने तय कार्यक्रम में थोड़ा बदलाव करना पड़ा। बताया जाता है कि प्रशासन से अनुमति नहीं मिलने के कारण उन्होंने अपना यह दौरा रद्द कर दिया।
अब सितारा नहीं ‘दीपक’ हूं
रामेश्वरम के बाद कमल हासन परमाकुडी पहुंचे। उनके पैतृक गांव में लोगों ने उनका गीत-संगीत नृत्य के साथ रंगारंग स्वागत किया। इसके बाद में उन्होंने रामनाथपुरम में एक सभा को संबोधित किया। रामनाथपुरम के बाद वे मनामदुरई पहुंचे। इस मौके पर कमल हासन ने कहा, ‘अब वह फिल्मी सितारा नहीं, बल्कि लोगों के घरों का ‘दीपक’ हैं। आप को चाहिए कि घरों के दीपक की तरह मेरी सुरक्षा करें।’
हासन के लिए राजनीति में ज्यादा जगह नहीं : मोइली
हैदराबाद। वरिष्ठ कांग्रेस नेता एम. वीरप्पा मोइली ने बुधवार को कहा कि अभिनेता कमल हासन की पार्टी के लिए ज्यादा गुंजाइश नहीं है।
पूर्व केंद्रीय मंत्री मोइली ने कहा कि तमिलनाडु में द्रमुक एवं अन्नाद्रमुक प्रधान क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टियां हैं जहां रजनीकांत भी अपनी सियासी पार्टी बनाने की योजना जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने कहा, इसलिए मैं नहीं समझता कि जब तक मुख्यधारा की इन क्षेत्रीय पार्टियों (द्रमुक और अन्नाद्रमुक) से ये तालमेल नहीं करें, अन्य क्षेत्रीय पार्टियों के लिए ज्यादा गुंजाइश बची है। मोइली ने कहा, मैं समझता हूं कि कमल हासन की पार्टी की संभावना बहुत कम है।
घोषणाः अभिनेता कमल हासन ने बनाई नई पार्टी, कहा- लोगों को जीवन समर्पित करेंगे
कमल हासन ‘कागज के फूल’
तमिलनाडु के एक वरिष्ठ मंत्री एवं अन्नाद्रमुक नेता ने कहा कि वह कमल हासन पर की गई द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन की उस टिप्पणी से सहमत हैं जिसमें उन्होंने हासन को कागज का एक फूल बताया था जो सुगंध बिखेर नहीं सकता। मत्स्य मंत्री डी जयकुमार ने कहा कि भले ही द्रमुक उनकी पार्टी की धुर विरोधी है, वह तब भी स्टालिन की कागज के फूल संबंधी टिप्पणी से सहमत हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here