आशंका:पीएनबी घोटाले में जब्त हीरों की असली कीमत अनुमान से करोड़ों कम

0
164

पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की करीब छह हजार करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त करने के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय उनका स्वतंत्र मूल्यांकन कराने की तैयारी कर रहा है। ताकि, जब्त किए गए हीरे जवाहरात, आभूषण, अचल संपत्ति और कंपनी के शेयरों की असली कीमत का आकलन किया जा सके। जांच एजेंसियों का मानना है कि नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के जब्त हीरे, आभू्षण और संपत्ति की कीमत ‘बुक बैल्यू’ से कम होगी। पहले ही दिन ईडी ने दावा किया था कि 5,140 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली गई है।
प्रवर्तन निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि विभिन्न जांच एजेंसियां ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की जो भी संपत्ति जब्त की है, वह ‘बुक बैल्यू’ पर जब्त की गई है। इस मामले के खुलासे के बाद ईडी व दूसरी जांच एजेंसियां लगातार छानबीन में जुटी है। ऐसे में अभी हीरे, आभूषण और संपत्ति की असल कीमत का आंकलन नहीं हुआ है।
PNB:नीरव मोदी के बाद अब मेहुल कर्मचारियों से बोले-नहीं दे पाएंगे सैलरी
जांच एजेंसियों का मानना है कि नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के जब्त हीरे, आभू्षण और संपत्ति की कीमत ‘बुक बैल्यू’ से कम होगी। इसलिए एजेंसियां जल्द जब्त किए गए सामान का मूल्यांकन कराने की तैयारी कर रही है। एक वरिष्ठ अफसर ने कहा कि मूल्यांकन के बाद जब्त किए गए हीरे व आभूषणों की कीमत करीब चार हजार करोड़ के आसपास हो सकती है।
PNB Scam: PM बोले-जनता के पैसे की लूट बर्दाश्त नहीं,होगी कड़ी कार्रवाई
एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हीरे की कीमत का मूल्यांकन आसानी से किया जा सकता है, पर आभूषण में जड़ने के बाद उसकी कीमत का आकलन करना मुश्किल होता है। इसलिए, जांच एजेंसी जब्त किए गए हीरे व आभूषणों की जांच के लिए मूल्यांकन करने वाली एजेंसी की सहायता लेगी।
क्या होती है ‘बुक बैल्यू’
बुक वैल्यू किसी भी वस्तु या कंपनी की वह कीमत होती है, जो खास समय पर उसे खुले बाजार में बेचने पर मिलती है। परस्थिति और समय के साथ यह कीमत बदलती रहती है।
PNB स्कैम: घोटाले के बाद पीएनबी के 1415 कर्मचारियों का ट्रांसफर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here