पत्नी ने कहा-छी! वो मेरा पति है..ये सोचकर भी घिन आती है मुझे

0
1199

पटना के एक कोचिंग संस्थान की लड़की से यौनशोषण के आरोप में गिरफ्तार आयकर विभाग के अधिकारी की पत्नी ने कहा कि ये सोच कर भी घिन आती है कि वो मेरा पति है। मैं उससे तलाक ले लूंगी।
मधुबनी । नाबालिग छात्रा से यौनशोषण के आरोप में जेल भेजे गए आइआरएस अधिकारी रामबाबू प्रसाद गुप्ता की पत्नी दीप्ति ने पहली बार मीडिया से बात की है। उन्होंने पति से वैवाहिक संबंध विच्छेद की कानूनी प्रक्रिया शुरू करने का मन बना लिया है। दैनिक जागरण से बातचीत में उन्होंने कहा वे कि वकील से सलाह ले रही हैं। पति पर लगे आरोपों की बाबत कहा कि छी! ऐसा सोचकर भी घिन आती है।
दीप्ति ने बताया कि वे शीघ्र ही कोर्ट में अर्जी देंगी। संबंध विच्छेद के लिए वे और उनके मायके वाले पांच-छह वर्ष से प्रयासरत हैं। लेकिन, रामबाबू झूठा आश्वासन देकर आनाकानी करते रहे हैं।
दीप्ति ने दैनिक जागरण के 23 फरवरी के अंक में’सीतामढ़ी के आइआरएस रामबाबू का वैवाहिक जीवन भी विवादों में’ शीर्षक से प्रकाशित खबर पर सहमति जताई। कहा कि रामबाबू के उत्पीडऩ से तंग आकर चार वर्ष से मायके में रह रही हूं। इस बीच पटना की शर्मनाक घटना सामने आई। अब तो रामबाबू के साथ रहने को सोच भी नहीं सकती।
गौरतलब है कि रामबाबू गुप्ता का ससुराल मधुबनी शहर के राउतपट्टी मोहल्ले में है। ससुर शहर के प्रतिष्ठित व्यवसायी हैं। दीप्ति का वर्ष 2005 में विवाह हुआ था। तब से ससुराल सीतामढ़ी के लक्ष्मीपुर भुतहा गांव में रामबाबू द्वारा उत्पीडऩ का सिलसिला शुरू हो गया।
अमानवीय कृत्य:10 साल की बच्ची से दुष्कर्म, बेहोश होने पर सड़क पर फेंका, मौत
दीप्ति मायके चली आई। उनके मायके वालों द्वारा सामाजिक स्तर पर भी कई बार रामबाबू से मिलकर मामले को सुलझाने का प्रयास किया गया था। लेकिन, बात नहीं बनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here