राज्यसभा चुनाव की बजी डुगडुगी, बिहार के लिए भी खाली हैं छह सीटें, जानिए

0
319

चुनाव आयोग ने शुक्रवार को राज्यसभा में खाली हो रहीं बिहार की छह सीटों पर चुनाव की तारीख घोषित कर दी है। 23 मार्च को वोटिंग होगी। इसे लेकर बिहार में राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है।
पटना ।बिहार की राज्यसभा की छह सीटों पर 23 मार्च को चुनाव की घोषणा के साथ ही बिहार में राजनीतिक सरगर्मी अचानक तेज हो गई है। शरद यादव की रिक्त हुई सीट के लिए आयोग ने अभी चुनाव की घोषणा नहीं की है।
जदयू के वशिष्ठ नारायण सिंह, महेंद्र प्रसाद, अनिल सहनी और अली अनवर तथा भाजपा के धर्मेंद्र प्रधान और रविशंकर प्रसाद का कार्यकाल 2 अप्रैल को पूरा हो रहा। उम्मीद की जा रही थी कि छह सीटों के साथ ही शरद यादव वाली सीट पर भी उपचुनाव हो जाएगा, लेकिन मामला अदालत में होने के कारण इस सीट के लिए चुनाव की घोषणा नहीं हुई।
जदयू और राजद की दो-दो और भाजपा की एक सीट पक्की
विधानसभा के संख्या बल के आधार पर जदयू और राजद को दो-दो तथा भाजपा का एक सीट पर चुनाव जीतना तय है। राजद के नौ अतिरिक्त वोट की मदद से कांग्रेस भी एक सीट जीत सकती है, लेकिन यहीं पर पेंच फंसा है। 27 सदस्यीय कांग्रेस विधायक दल में टूट की अटकलें पिछले कई महीने से राजनीतिक गलियारे में गर्म है। इसी बीच राज्यसभा चुनाव की घोषणा ने ऐसी अटकलों को और तेज कर दिया है।
बिहार: चारों सदन की 20 सीटों के लिए मार्च-अप्रैल में चुनाव, राजनीति गरमाई
राज्यसभा के मतदान में पार्टियों की ओर से ह्विप जारी नहीं होता है। विधायकों को केवल पार्टी के प्रतिनिधि को दिखाकर मतदान करना होता है। ऐसी स्थिति में कांग्रेस के पांच छह विधायकों ने भी क्रास वोटिंग कर दी तो उनके उम्मीदवार का खेल खराब हो जाएगा। ऐसी स्थिति में सत्ताधारी एनडीए के चौथे प्रत्याशी को चुनाव जीतने से रोक पाना संभव नहीं होगा।
विधान परिषद की सीट भी हो रहीं खाली
बिहार विधान परिषद की ग्यारह सीटें भी 6 मई को खाली हो रही है। एक महीने के अंतराल में द्विवार्षिक चुनाव के लिए खाली होने वाली राज्यसभा की छह और विधान परिषद की 11 सीटों पर अमूमन एक साथ चुनाव होता रहा है। इस बार अलग अलग चुनाव कराने की वजह से जोड़तोड़ और क्रास वोटिंग की संभावना बढ़ गई है।विधान परिषद की 11 सीटें भी 6 मई को खाली हो रही हैं। इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय,राबड़ी देवी, संजय सिंह, लाल बाबू प्रसाद,उपेंद्र प्रसाद,राज किशोर कुशवाहा,चंदेश्वर चंद्रवंशी, नरेंद्र सिंह और सत्येंद्र कुशवाहा की सीट शामिल है। कुशवाहा का पिछले दिनों लम्बी बीमारी के बाद निधन हो गया था।
बिहार में 16 साल बाद राज्य सभा की दौड़ में कांग्रेस, जानिए किनके नाम की हो रही चर्चा
23 को चुनाव, उसी दिन होगी मतगणना
चुनाव आयोग ने शुक्रवार को राज्यसभा में खाली हो रहीं बिहार की छह सीटों पर चुनाव की तारीख घोषित कर दी है। 23 मार्च वोटिंग और मतगणना होगी। पांच मार्च को अधिसूचना जारी होगी। उम्मीदवारों के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 12 मार्च रखी गई है। 13 को नामांकन पत्रों की जांच होगी। नाम वापसी की आखिरी तारीख 15 मार्च है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.