लाल साड़ी में श्रीदेवी की आखिरी तस्वीर, अंतिम यात्रा में उमड़े लाखों लोग; राजकीय सम्मान से होगा अंतिम संस्कार

0
1438

श्रीदेवी की अंतिम यात्रा में शामिल में लाखों फैन्स। बॉलीवुड सितारों भी गमगीन। 4 बजे पूरे राजकीय सम्मान के साथ होगी श्रीदेवी का अंतिम संस्कार।
मुंबई । बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा श्रीदेवी के पार्थिव शव को तिरंगे से लपेटा गया है। पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित श्रीदेवी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा। उनकी अंतिम यात्रा पर लाखों फैन्स शामिल हुए है। जिस ट्रक में उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई, उसे सफेद फूलों से सजाया गया क्योंकि श्रीदेवी को सफेद रंग बहुत पसंद था। श्रीदेवी के निधन ने न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरे देश को गमगीन कर दिया। अपनी पसंदीदा कालाकार के पार्थिक शव के अंतिम दर्शन के लिए आज (बुधवार) सुबह से उनके फैन्स और बॉलीवुड सितारों का आना जाना रहा। सभी की आंखे नम थी और श्रीदेवी के दुनिया छोड़ जाने का गम।
श्रीदेवी की अंतिम यात्रा
मुंबई के सिलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से श्रीदेवी की अंतिम यात्रा निकाली गई। फूलों से सजे सफेद ट्रक के श्रीदेवी का पार्थिव शरीर रखा गया। शाम 4 बजे उनका पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।
दीवानगी एेसी, देख नहीं सकता फिर भी श्रीदेवी के ‘अंतिम दर्शन’ को पहुंचा फैन
अंतिम दर्शन के लिए उमड़े फैन्स और सितारे
आज सुबह (बुधवार) श्रीदेवी के पार्थिव शव को अंतिम दर्शन के लिए सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब में रखा गया था। जहां राजनेताओं, फिल्मी सितारों से लेकर आम लोग उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे। आम लोगों को 12.30 बजे तक उनके अंतिम दर्शनों का मौक मिला। हर कोई उनके यूं अचानक दुनिया छोड़ जाने से दुखी नजर आए। किसी को भी अब भी यकीन नहीं हो पा रहा है कि श्रीदेवी की मृत्यु हो चुकी है।
श्रीदेवी के निधन पर कांग्रेस के ट्वीट पर लोगों का फूटा गुस्सा, अब डिलीट किया
दोपहर 4 बजे होगा अंतिम संस्कार
आज दोपहर 4 बजे पवनहंस श्मशान में राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से उनकी अंतिम यात्रा निकाली गई।
बॉलीवुड सितारों ने किए अंतिम दर्शन
मंगलावर रात 10.30 बजे श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई स्थित उनके घर पहुंचने के बाद उनके घर के बाहर प्रशंसकों की भीड़ बहुत बढ़ गई। रातभर उनके घर सितारों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा और एक के बाद एक बॉलीवुड की हस्तियां उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचने लगी। उनके निधन पर न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। मंगलवार देर रात श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई पहुंचते ही उनके निवास के बाहर प्रशंसकों की भीड़ उमड़ पड़ी। कुछ फैन्स तो सारी रात उनके घर के बाहर मौजूद रहे।
श्रीदेवी की डेड बॉडी मुंबई लाने की मिली अनुमति, दुबई पुलिस ने कपूर परिवार को सौंपा पत्र
मंगलवार को सांत्वना देने आए सितारों में सैफ अली खान, उनकी बेटी सारा अली खान, सुनील शेट्टी की बेटी आथिया शेट्टी, वहीदा रहमान (जिन्होंने फिल्म लम्हे में श्रीदेवी की मां का रोल किया था), निर्देशक फरहा खान, अभिनेत्री नीलिमा अजीम, संगीतकार बप्पी लहरी, रमेश सिप्पी, उनकी पत्नी किरण सिप्पी, अक्षय कुमार और उनकी पत्नी ट्विंकल खन्ना प्रमुख रहे।
यकीन नहीं हो रहा…श्रीदेवी अब नहीं रहीं
श्रीदेवी के मूल गांव के लोगों ने भी उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है। शिवकाशी के लोगों ने कहा कि विश्वास नहीं कर पा रहे हैं कि श्रीदेवी का निधन हो गया है। बता दें कि श्रीदेवी का जन्म मीनाम्पत्ति के शिवकाशी में हुआ था।
ग्रीन एकर्स सोसायटी ने रद किया होली कार्यक्रम
श्रीदेवी के निधन के बाद जिस सोसायटी में श्रीदेवी रहती थीं, उस सोसायटी ने होली समारोह रद कर दिया है। वे लोखंडवाला के ग्रीन एकर्स को-ऑपरेटिव हाउसिंग सोसायटी में रहती थीं। सोसायटी ने अपने लैटर हेड पर लिख कर पत्र जारी किया। जिसमें लिखा, ‘हमारी सोसायटी की सदस्य और अदाकारी से हमारे दिलों पर राज करने वाली श्रीदेवी जी के आस्मिक निधन के कारण हम 2 मार्च को सोसायटी में आयोजित होने वाला होली मिलन समारोह का कार्यक्रम रद कर रहे हैं।’
श्रीदेवी जैसी अदाकारा को असमय खो देने से बहुत याद आएंगी हिंदी सिनेमा की पहली लेडी सुपरस्टार
दुबई पुलिस ने बंद किया केस
लंबी जांच-पड़ताल व पति बोनी कपूर के बयान-पूछताछ के बाद मंगलवार को सरकारी वकील ने श्रीदेवी की मौत का केस बंद करने का फैसला किया। इसके बाद पार्थिव शरीर को मुंबई लाने का रास्ता साफ हुआ। दुबई पुलिस ने स्पष्ट किया कि केस में अपराध का कोई मामला नहीं बना। दोपहर बाद सभी औपचारिकताओं के बाद शाम पांच बजे वहां से पार्थिव शरीर विशेष विमान से रवाना हो सका। श्रीदेवी का शनिवार रात करीब 11 बजे दुबई की होटल में निधन हो गया था।
अनिल कपूर के गले लगकर रोए बोनी
श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को लाने के लिए उद्योगपति अनिल अंबानी का विशेष विमान दो दिन पहले ही दुबई पहुंच चुका था। रात करीब 9.30 बजे जब दस यात्रियों को लेकर अंबानी का जेट लौटा तो उसमें बोनी कपूर और अर्जुन कपूर के अलावा बोनी की बहन रीना मारवाह भी थीं। रीना के बेटे की शादी में ही भाग लेने के लिए श्रीदेवी दुबई गई थीं। हवाई अड्डे पर भाई अनिल कपूर को देखते ही बोनी उनके गले लगकर रो पड़े। वहां अनिल अंबानी, उनकी पत्नी टीना, बोनी के सबसे छोटे भाई संजय के अलावा सोनम कपूर भी थीं। हालांकि, श्रीदेवी की दोनों बेटियां-जान्हवी और खुशी अपने चाचा अनिल कपूर के घर में थीं।
श्रीदेवी की मौत का ख़ुलासा, दिल का दौरा पड़ने से नहीं हुआ निधन
अर्जुन कपूर गए थे दुबई
श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को लाने के लिए बोनी कपूर के बेटे अर्जुन कपूर भी दुबई पहुंच गए थे। वह पिता का हौसला बढ़ाने के लिए दुबई गए थे, क्योंकि वहां संकट की घड़ी में वह बहुत अकेलापन महसूस कर रहे थे। गौरतलब है कि अर्जुन बोनी कपूर की पहली पत्नी मोना की संतान हैं। अर्जुन की एक बहन भी है।
परिवार ने जारी किया शोक कार्ड
कपूर व अयप्पन परिवार ने श्रीदेवी के निधन व अंत्येष्टि का शोक कार्ड जारी किया है। कार्ड के सबसे ऊपर “पद्मश्री श्रीदेवी कपूर” लिखा है। इसमें श्रद्धांजलि सभा और अंतिम दर्शन कार्यक्रम का समय व अन्य ब्योरा है। इसमें कपूर परिवार व अय्यप्पन परिवार की ओर से शोक व्यक्त किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here