टी-20 क्रिकेट के इतिहास में पहली बार भारत खेलने जा रहा ऐसा मैच

0
172

रोहित शर्मा की कप्‍तानी में भारतीय टीम 6 मार्च से श्रीलंका में टी-20 ट्राई सीरीज खेलेगी। इस दौरे पर टीम इंडिया के नाम ऐसा रिकॉर्ड दर्ज होगा जो टी-20 क्रिकेट इतिहास में कभी नहीं बना। आइए जानें क्‍या है वो खास मुकाम….
पहली बार खेलेंगे टी-20 ट्राई सीरीज
श्रीलंका में 6 मार्च से टी-20 त्रिकोणीय श्रंखला की शुरुआत हो रही है। इस सीरीज में भारत, बांग्‍लादेश और मेजबान श्रीलंका आपस में भिड़ेंगी। भारतीय टीम के लिए यह टूर्नामेंट कुछ खास होने वाला है, जो पिछले 12 सालों में नहीं हुआ वो अब होगा। भारत ने अपना पहला टी-20 मैच 2006 में साउथ अफ्रीका में खेला था। तब से लेकर आज तक टीम इंडिया ने किसी टी-20 ट्राई सीरीज में हिस्‍सा नहीं लिया। यह पहला मौका होगा जब भारत क्रिकेट के इस छोटे फॉर्मेट में त्रिकोणीय सीरीज खेलेगा। इसी के साथ रोहित शर्मा भारत के पहले कप्‍तान होंगे जो इस तरह की टी-20 सीरीज खेल रहे होंगे
100 मैच खेलने वाली 7वीं टीम
भारत को इस दौरे में कई मैच खेलने हैं। अगर सभी मैच खेल लिए जाते हैं तो टीम इंडिया 100 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेलने वाले क्‍लब में शामिल हो जाएगी। भारत ने अब तक 94 मैचों में से 57 मैच जीते हैं, 34 हारे हैं। जबकि एक मैच टाई रहा है तो दो का कोई रिजल्ट नहीं निकला है। सबसे अधिक 123 मैच पाकिस्तान ने खेले हैं। जबकि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने 100-100, न्यूजीलैंड ने 111, श्रीलंका ने 104 और साउथ अफ्रीका ने 103 मैच खेले हैं।
20 साल पहले भारत के वो दो ओपनर बल्‍लेबाज, जिन्‍हें 45वें ओवर में आउट कर पाए थे श्रीलंकन गेंदबाज
6 बाहर, 6 को मौका
इस दौरे पर टीम इंडिया के मौजूदा 6 खिलाडिय़ों को आराम दिया गया है। विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी के अलावा हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव और भुवनेश्वर कुमार को इस दौरे से बाहर रखा गया है। साउथ अफ्रीका दौरे पर टीम इंडिया में सबसे ज्यादा मैच हार्दिक पांड्या ने खेले। उन्होंने दौरे के सभी 12 मैच खेले, इसलिए उन्हें इस दौरे से आराम दिया गया है। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को भी इस दौरे से बाहर रखा गया है। ये दोनों भी लंबे समय से टीम इंडिया के लिए खेल रहे हैं। ऐसे में इनके आराम की बात भी की जा रही थी। इस दौरे पर छह खिलाडिय़ों को फिर से मौका दिया गया है। इनमें केएल राहुल, दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर, विजय शंकर, मोहम्मद सिराज, रिषभ पंत शामिल हैं।
धोनी-कोहली के बिना आखिरी बार मैदान पर कब उतरी थी टीम इंडिया
2015 में दोनों को मिला था आराम
सीमित ओवरों की बात की जाए तो भारतीय टीम में विराट कोहली और एमएस धोनी की जगह हमेशा पक्‍की रहती है। बशर्ते उन्‍हें कोई चोट न लगी हो। दोनों ही टीम के मुख्‍य खिलाड़ी हैं, दोनों में से किसी एक के बाहर होते ही टीम संतुलन बिगड़ जाता है। शायद यही वजह है कि धोनी-कोहली एक साथ कभी भी टीम से छुट्टी नहीं लेते। मगर श्रीलंका सीरीज के लिए बीसीसीआई ने दोनों दिग्‍गजों को आराम देने का फैसला लिया है। आपको याद है आखिरी बार भारतीय टीम इन दोनों के बिना मैदान पर कब उतरी थी। 32 महीने पहले भारत ने जिंबाब्‍वे का दौरा किया था। जिसमें कि भारत को वनडे और टी-20 सीरीज खेलनी थी। यह आखिरी मौका था जब धोनी और कोहली दोनों को एक साथ आराम दिया गया था। तब टीम की कमान संभाली थी अजिंक्‍य रहाणे ने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here