पंचकूला हिंसा: 149 डेरा समर्थकों पर आरोप तय, सुनवाई 7 अप्रैल से

0
99

पंचकूला हिंसा के 6 महीने बाद आगजनी, दंगों को लेकर 149 डेरा समर्थकों पर कोर्ट ने सोमवार शाम को आरोप तय कर दिया है। आरोपियों ने अपना दोष नहीं स्वीकारा है इसलिए ट्रॉयल की शुरुआत 7 अप्रैल से होगी। सभी आरोपी फिलहाल जमानत पर हैं। पंचकूला हिंसा में 36 लोगों की जान गई थी जबकि करोड़ों की संपत्ति स्वाहा हो गई।
वहीं पंचकूला में दंगा भड़काने और देशद्रोह के आरोपी हनीप्रीत पर अभी आरोप तय नहीं हो पाया है। हनीप्रीत मामले की अगली सुनवाई 28 मार्च को होगी। हनीप्रीत इंसा, उसकी साथी सुखदीप कौर, राकेश कुमार अरोड़ा, सुरेंद्र धीमान इंसा, चमकौर सिंह, दान सिंह, गोविंद राम, प्रदीप गोयल इंसा व खैराती लाल पर कई धाराओं के तहत केस दर्ज है। आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 121, 121ए, 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120बी के तहत मामले दर्ज किए गए हैं।
हनीप्रीत 25 अगस्त की हिंसा की घटना के बाद 38 दिन तक फरार रही थी और उसे तीन अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था। उसका असली नाम प्रियंका तनेजा है। वह अंबाला स्थित केंद्रीय कारा में 23 अक्टूबर से बंद है। हिंसा में उसके शामिल होने की पुष्टि के लिए एसआईटी हनीप्रीत को हरियाणा के विभिन्न जगहों पर ले गई थी।
आपको बता दें कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक अदातल ने राम रहीम को 25 अगस्त को महिला अनुयायियों से दुष्कर्म के 1999 के मामले में दोषी करार दिया था। अदालत ने राम रहीम को 20 साल सश्रम कारावास और 30 लाख का जुर्माने की सजा सुनाई थी। इसके बाद ही हिंसा भड़क गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here