दिल्‍ली: मीटिंग में नहीं जाएंगे मुख्‍य सचिव अंशु प्रकाश, हाईकोर्ट का आदेश

0
215

दिल्‍ली हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि आज शाम 3 बजे होने वाली प्रश्‍नोत्‍तर कमेटी की मीटिंग में दिल्‍ली के मुख्‍य सचिव शामिल नहीं होंगे. हाईकोर्ट का कहना है कि मुख्‍य सचिव अंशु प्रकाश के दफ्तर से कोई नहीं जाएगा.
दिल्‍ली: मीटिंग में नहीं जाएंगे मुख्‍य सचिव अंशु प्रकाश, हाईकोर्ट का आदेश
अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा मुख्‍य सचिव के साथ मारपीट के मामले में अब दिल्‍ली हाईकोर्ट ने आदेश दिया है. हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि आज शाम 3 बजे होने वाली प्रश्‍नोत्‍तर कमेटी की मीटिंग में दिल्‍ली के मुख्‍य सचिव शामिल नहीं होंगे. कहा गया है कि इस बैठक में मुख्‍य सचिव अंशु प्रकाश के दफ्तर से कोई नहीं जाएगा. कमेटी को जो भी जानकारी चाहिए, वह किसी अन्‍य अधिकारी से ले सकती है.बता दें कि दिल्ली के मुख्‍य सचिव अंशु प्रकाश से मारपीट मामले में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुख्‍य सचिव के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. इस मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) के दो विधायक प्रकाश जरवाल और अमानातुल्ला खान मुख्य सचिव से मारपीट का आरोप है. वहीं, केजरीवाल पर भी आरोप लगे हैं कि उनकी मौजूदगी में मुख्य सचिव से बदसलूकी और हाथापाई हुई, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया. इन आरोपों से इनकार करते हुए बुधवार को दिल्ली सीएम ने कहा, “अरविंद केजरीवाल ज़िद्दी हो सकता है, मगर हिंसक नहीं.”आम आदमी पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से केजरीवाल का एक वीडियो ट्वीट किया गया है. इस वीडियो में दिल्ली सीएम यह कहते हुए दिख रहे हैं, “केजरीवाल ज़िद्दी हो सकता है, लेकिन, हिंसक नहीं हो सकता. हमलोग हिंसा कभी नहीं करेंगे. मारपीट कायर लोग करते हैं और केजरीवाल कायर नहीं है.”मुख्य सचिव के साथ मारपीट के आरोपों को खारिज करते हुए केजरीवाल ने कहा, “हम कभी मारपीट नहीं करेंगे…और अपने लोगों से क्‍यों करेंगे? आपस में लड़ लेंगे, झगड़ लेंगे. हम मारपीट क्‍यों करेंगे?”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here