फ्रांसीसी राष्ट्रपति और PM मोदी के बीच औपचारिक मुलाकात आज, हो सकते हैं ये समझौते

0
110

नई दिल्ली: फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रोन चार दिन की यात्रा पर शुक्रवार रात को भारत पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी की। मैक्रोन के साथ उनकी पत्नी ब्रिगित मैरी क्लाउड मैक्रोन के अलावा उनके मंत्रिमंडल के वरिष्ठ मंत्री आए हैं। मोदी और मैक्रोन के बीच आज प्रतिनिधि स्तर की बातचीत में हिंद महासागर में सहयोग बढ़ाने का मुद्दा प्राथमिकता पर लिया जा सकता है।
ये हो सकते हैं समझौते
उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देश विभिन्न क्षेत्रों, खासकर समुद्री सुरक्षा तथा आतंकवाद से निपटने के क्षेत्रों में संबंधों को मजबूत बनाने पर विशेष रूप से गौर करेंगे। सूत्रों ने यहां कहा कि इस दौरान फ्रांस के सहयोग से बन रहे जैतापुर (महाराष्ट्र) परमाणु बिजली संयंत्र को लेकर भी समझौते पर हस्ताक्षर की उम्मीद है। संयुक्त सचिव (यूरोप पश्चिम) के नागराज नायडू ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘फ्रांस विशेष रूप से दक्षिण एशिया में आतंकवाद को लेकर भारत के नजरिये का समर्थन करता है। हम नए क्षेत्रों खासकर समुद्री सुरक्षा, आतंकवाद निरोधक उपाय तथा अक्षय ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में दोनों की बढ़ती सहमति देख रहे हैं।’’ इसके अलावा भारत और फ्रांस के बीच रणनीतिक भागीदारी में रक्षा, परमाणु ऊर्जा तथा अंतरिक्ष के क्षेत्र में सहयोग का मामला शामिल हैं। नायडू ने कहा, ‘‘अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत और फ्रांस के बीच एक परिपक्व गठजोड़ है और हम इसे नए स्तर ले जाना पसंद करेंगे।’’ भारत और फ्रांस के बीच अंतरिक्ष के क्षेत्र में सहयोग पांच दशक से भी पुराना है। परंपरागत क्षेत्रों के अलावा अक्षय ऊर्जा, उच्च गति वाली ट्रेन और व्यापार में सहयोग बढ़ाने पर भी जोर होगा।
विद्यार्थियों के साथ खुली चर्चा में शामिल होंगे मैक्रोन
मोदी के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद मैक्रोन विद्यार्थियों के साथ एक खुली चर्चा में शामिल होंगे। इसमें विभिन्न स्तर के करीब 300 छात्रों के भाग लेने की उम्मीद है। मैक्रोन ‘ज्ञान सम्मेलन ’ में भी भाग लेंगे। इसमें दोनों पक्षों के 200 से अधिक शिक्षाविद शामिल होंगे।
इसके अलावा राष्ट्रपति मैक्रोन अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) के शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। आईएसए भारत और फ्रांस की संयुक्त पहल का परिणाम है। आईएसए शिखर सम्मेलन में कई देशों एवं सरकार के प्रमुखों के शामिल होने की संभावना हैं इसमें ठोस परियोजनाओं पर जोर दिए जाने की संभावना है। वे ताज के दीदीर भी करने जाएंगे। राष्ट्रपति मैक्रोन 12 मार्च को वाराणसी भी जाएंगे। वाराणसी प्रधानमंत्री मोदी का लोकसभा क्षेत्र है। प्रधानमंत्री के साथ मैक्रोन उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में सौर संयंत्र का उद्घाटन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here