बाजार में गिरावट बढ़ी, निफ्टी ने तोड़ा 10200 का लेवल, सेंसेक्स 550 अंकों से ज्यादा टूटा

0
132

नई दिल्ली. दोपहर के कारोबार में बाजार में गिरावट बढ़ गई है। एफएमसीजी, मेटल, बैंकिंग, आईटी, फार्मा, रियल्टी और ऑयल एंड गैस स्टॉक्स में बिकवाली से बाजार पर दबाव बना और कारोबार के दौरान सेंसेक्स 550 अंकों से ज्यादा टूट गया। वहीं निफ्टी 10200 के नीचे फिसल गया। हैवीवेट ओएनजीसी, एसबीआई, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंफोसिस, टीसीएस, एचडीएफसी, आईटीसी, एचडीएफसी बैंक और मारुति में कमजोरी से गिरावट गहरी होती जा रही है।

बाजार में गिरावट की वजह

– ट्रेडस्विफ्ट ब्रोकिंग के डायरेक्टर संदीप जैन का कहना है कि निगेटिव ग्लोबल संकेतों के बाद हैवीवेट ओएनजीसी, एचडीएफसी, मारुति, टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील में गिरावट से बाजार पर दबाव बना है।
– वहीं अगले हफ्ते फेडरल रिजर्व की बैठक होनी है। इस बैठक में फेड रेट में बढ़ोतरी पर फैसला हो सकता है।
– मार्केट को ट्रेड वार का डर भी सता रहा है। आईएमएफ प्रमुख ने ट्रेड वार को लेकर चेताते हुए कहा कि ट्रेड वार न केवल वैश्विक विकास को नुकसान पहुंचाएगा बल्कि यह अपरिहार्य भी हैं।

– मार्केट एक्सपर्ट सचिन सर्वदे 200 डे सिंपल मूविंग एवरेज 10161 के लेवल पर है। 10122 पर 200 डे एक्सपोनेंशियल मूविंग एवरेज पर है। इसके ऊपर मार्केट के रहने पर बाजार में खरीददारी की जा सकती है।

शुरुआती तेजी के बाद मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है।। बीएसई के मिडकैप इंडेक्स में 0.0.67 फीसदी की गिरावट नजर आ रही है। कॉनकोर, ओबेरॉय रियल्टी, जीएमआर इंफ्रा, अपोलो हॉस्पिटल, एंडुरेंस, सेंट्रल बैंक, अशोक लेलैंड, डिविस लैब, सन टीवी, 3एम इंडिया, रिलायंस इंफ्रा में कमजोरी से मिडकैप इंडेक्स पर दबाव है। वहीं बीएसई के स्मॉलकैप इंडेक्स में 0.57 फीसदी की कमजोरी आई है।

बाजार पर बिकवाली हावी होने की वजह से दोपहर को सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में ट्रेड करते दिख रहे हैं। सबसे ज्यादा गिरावट निफ्टी एफएमसीजी और मेटल इंडेक्स में देखने को मिल रही है। इंडेक्स 1 फीसदी से ज्यादा टूटे हैं। वहीं बैंक निफ्टी इंडेक्स में 0.57 फीसदी की कमजोरी आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here