नरेंद्र मोदी चौक नाम रखने के कारण नहीं हुई दरभंगा में हत्‍या: सुशील मोदी

0
102

पटना
बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने दरभंगा जिले में बीजेपी कार्यकर्ता की गला काटकर हत्या किए जाने के पीछे नरेंद्र मोदी चौक बनवाने के आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस हत्या के पीछे जमीन विवाद है और उसका मोदी चौक बनवाए जाने से कोई लेना-देना नहीं है। डेप्युटी सीएम ने यह भी कहा कि चौराहे पर लगाया बोर्ड काफी पुराना है।सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘यह आरोप पूरी तरह से गलत है कि मोदी चौक नाम रखने के कारण दरभंगा में हत्या कर दी गई है। यह एक जमीन विवाद का मामला है। मोदी चौक नाम से बोर्ड वहां बहुत पहले ही लगा दिया गया था। इस हत्या का मोदी चौक बोर्ड से कोई संबंध नहीं है।’ बता दें, गुरुवार देर रात को दरभंगा जिले में पीएम नरेंद्र मोदी के नाम पर एक चौराहे का नामकरण करने पर कुछ लोगों ने बीजेपी के एक स्थानीय कार्यकर्ता के पिता का सिर काटकर उसकी हत्या कर दी गई थी।बीजेपी कार्यकर्ता कमलेश यादव के घर पर 40-50 तलवारधारी लोगों द्वारा किये गए इस हमले में उनके भाई भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं जिसके बाद उन्हें दरभंगा के स्थानीय अस्पताल में दाखिल किया गया है। जानकारी के मुताबिक दरभंगा में बीजेपी के स्थानीय नेता कमलेश यादव ने करीब 2 साल पहले अपने घर के पास स्थित एक चौराहे का नामकरण करते हुए वहां ‘मोदी चौक’ नाम का बोर्ड लगा दिया था। इससे कमलेश के गांव के कुछ लोग उनसे नाराज थे।
’40-50 तलवारधारी लोगों ने की हत्या’
कमलेश के भाई के मुताबिक इसी रंजिश में तलवार और हॉकी लिये 40-50 लोगों ने गुरुवार देर रात कमलेश के घर पर हमला किया और वहां मौजूद उनके पिता रामचंद्र यादव का सिर काटकर उनकी हत्या कर दी। इसके अलावा भीड़ में शामिल लोगों ने कमलेश को भी जान से मारने की कोशिश की जिसके कारण वह गंभीर रूप से घायल हो गए। इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने के बाद भीड़ में शामिल सभी लोग मौके से फरार हो गए जिसके बाद गंभीर रूप से घायल कमलेश को दरभंगा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया।’मोदी चौक’ बनवाने वाले BJP कार्यकर्ता के पिता की सिर काटकर हत्या, तनावFIR दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस
इस वारदात के बारे में जानकारी देते हुए दरभंगा सदर के थाना प्रभारी रविशंकर ने शुक्रवार को बताया कि घायल अवस्था में कमलेश को दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (डीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।टना के बाद इलाके में तनाव, कड़ी सुरक्षा वहीं शुरुआती जांच की जानकारी देते हुए दरभंगा के डीएसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शुक्रवार देर रात आरोपियों को गिरफ्तार किया है। डीएसपी ने बताया इस संबंध में केस दर्ज करते हुए मामले की जांच की जा रही है। साथ ही अस्पताल में भर्ती कमलेश का बयान भी दर्ज किया गया है, जिसके आधार पर पूरी तफ्तीश की जा रही है। इस घटना के बाद से ही दरभंगा में तनाव का माहौल बना हुआ है, जिसके कारण पुलिस अधिकारी लगातार हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here