पंजाब: पूर्व CM बेअंत सिंह के हत्यारे जगतार सिंह तारा को उम्रकैद की सजा

0
129

चंडीगढ़
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या से संबंधित एक मामले में दोषी ठहराए गए खालिस्तान समर्थक आतंकी जगतार सिंह तारा को शनिवार को चंडीगढ़ की एक अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। तारा के वकील सिमरनजीत सिंह ने यह जानकारी दी। तारा को शुक्रवार को अदालत ने इस मामले में दोषी ठहराया था। जगतार सिंह तारा ने कोर्ट से लिखित रूप में कहा था कि निर्दयी व्यक्ति की हत्या से यदि हजारों लोगों की जान बचाई जाती है तो यह गलत नहीं है।
बेअंत सिंह का हत्यारा जगतार बोला-निर्दयी को मारना गलत नहीं
शुक्रवार को इस मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद पत्रकारों से बातचीत में तारा के वकील सिमरनजीत सिंह ने बताया था कि जगतार सिंह तारा ने कोर्ट से कहा है कि उन्हें बेअंत सिंह की हत्या पर किसी भी तरह का पछतावा नहीं है। तारा ने यह भी कहा, ‘मैंने सरकार के खिलाफ सिखों की जंग लड़ी है और यह लड़ाई जारी रहेगी।’जानिए, क्या था मामला
बता दें कि तारा ने 1995 में हुई बेअंत सिंह की हत्या के मामले में अपनी संलिप्तता कबूल कर ली थी। यह कबूलनामा इस वर्ष (2018) के जनवरी माह में अदालत को सौंपा गया था। गौरतलब है कि खालिस्तान टाइगर फोर्स का स्वयंभू कमांडर जगतार सिह तारा 31 अगस्त 1995 को हुई बेअंत सिंह की हत्या का मास्टरमाइंड है। उस दिन चंडीगढ़ में पंजाब सचिवालय के सामने आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था, जिसमें बेअंत सिंह समेत 18 लोगों की मौत हो गई थी। इस हत्याकांड को अंजाम देने के समय जगतार सिंह तारा और दूसरे हत्यारे परमजीत सिंह भ्योरा व जगतार सिंह हवारा बब्बर खालसा के सदस्य थे। बाद में तारा ने खालिस्तान टाइगर फोर्स के नाम से अपना आतंकी संगठन बना लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here