आप फाइनल में इससे ज्यादा की उम्मीद नहीं कर सकते: शाकिब अल हसन

0
115

कोलंबो
निदाहास ट्रोफी के फाइनल में आखिरी गेंद फेंके जाने से पहले तक बांग्लादेश की टीम फेवरिट मानी जा रही थी। भारत को जीत के लिए पांच रन चाहिए थे। लेकिन दिनेश कार्तिक ने सौम्य सरकार के ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर भारत को जीत दिला दी। पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद बांग्लादेश ने निर्धारित 20 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 166 रन बनाए। जवाब में भारत ने आखिरी गेंद पर छह विकेट पर 166 रन बनाकर मैच जीत लिया।रोहित क्यों नहीं देख पाए कार्तिक का शानदार छक्का मैच के बाद बांग्लादेशी कप्तान शाकिब अल हसन ने नतीजे पर निराशा तो जतायी लेकिन साथ ही कहा कि इस मुकाबले को शानदार भी बताया। शाकिब ने कहा, ‘आप फाइनल में इससे बेहतर की उम्मीद नहीं कर सकते। इस मैच में सब कुछ था, मुझे लगता है कि हम शानदार खेले।’ बांग्लादेशी कप्तान ने कहा कि इस मैच में कोई भी जीत सकता था लेकिन जीत का श्रेय भारतीय टीम, विशेषकर दिनेश कार्तिक को जाता है। उन्होंने संयम बनाए रखा।’आखिरी ओवर सौम्य सरकार को देने के संदर्भ में उन्होंने कहा, ‘हम 18वां और 19वां ओवर अपने सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को देना चाहते थे। अगर रूबेल ने 19वें ओवर में15 रन दिए होते तो आखिरी ओवर में 20 के करीब रन हम बचा सकते थे लेकिन ऐसा हुआ नहीं।’शाकिब ने भारत की जीत में 8 गेंदों पर दो चौकों और तीन छक्कों की मदद से 29 रन बनाने वाले दिनेश कार्तिक की खुलकर तारीफ की। उन्होंने कहा,’रूबेल की लेंथ में ज्यादा कमी नहीं थी लेकिन पूरा श्रेय कार्तिक को जाता है। कार्तिक ने आते ही पहली ही गेंद पर छक्का लगाया। ऐसा करना संभव नहीं होता।’बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 166 रन बनाए। इस पर शाकिब ने कहा कि हम जानते थे कि यह स्कोर बचा पाना थोड़ा मुश्किल होगा। उन्होंने कहा, ‘हर किसी ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, मैं इससे ज्यादा की उम्मीद नहीं कर सकता।’शाकिब ने कहा कि अंत में हम मैच हार गए इसका दुख तो होता है, लेकिन हम इस हार से काफी कुछ सीख सकते हैं। उन्होंने कहा कि आखिरी ओवर सरकार से कराये जाने का फैसला पहले से ही किया गया था। इस तरह के करीबी मुकाबलों में आप काफी कुछ कह सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘उम्मीद है कि हम इस हार से सीखकर आगे बढ़ेंगे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here