ग्रामीण स्टेशनों पर भी मिलेगी वाई-फाई सुविधा, आरपीएफ में होगी 50 प्रतिशत महिलाओं की भर्ती

0
138

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि बड़े स्टेशनों के साथ ग्रामीण इलाकों में बने स्टेशनों पर भी वाईफाई की सुविधा दी जाएगी। ताकि वहां रहने वाले भी इन सेवाओं का उपयोग कर सकें।उन्होंने कहा कि रेलवे सिर्फ यात्री सुविधाओं में ही बढ़ोतरी नहीं कर रहा बल्कि वह जल्द ही आरपीएफ में 9000 विभिन्न पदों पर भर्ती करेगा। इसमें 50 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। साथ ही 90 हजार रेल कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया भी जल्द शुरू हो जाएगी। पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे ने भर्ती प्रक्रिया को बहुत ही पारदर्शी बनाया है। चाहकर भी कोई इसमें भ्रष्टाचार नहीं कर सकता है। इसके अलावा सभी रेलवे स्टेशनों को सीसीटीवी से लैस किया जाएगा। रेलमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद यह पहला मौका है जब रेल व्यवस्था में इतने बड़े बदलाव हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों ने यूपी के साथ भेदभाव किया। इससे पहले सरकार ने यूपी को रेल बजट में 5650 करोड़ रुपये दिए थे जबकि हमारी सरकार ने यूपी में रेल विकास के लिए 7865 करोड़ रुपये दिए। हर साल यह बजट बढ़ता ही रहा है। लखनऊ की धरती से अटल बिहारी वाजपेयी, राजनाथ सिंह समेत कई नेता निकले हैं। इसलिए लखनऊ का हक बनता है कि भारत सरकार और देशवासी लखनऊ के विकास का संकल्प लें।
लखनऊ को 4000 करोड़ की सौगात
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि लखनऊ को अब तक इतनी बड़ी सौगात नहीं दी गई है। उन्होंने कि चारबाग, गोमतीनगर, आलमनगर व लखनऊ जंक्शन पर विकास कार्यों के लिए 4000 करोड़ रुपए की सौगात दी है। इसमें लिफ्ट, स्केलेटर समेत आनंदविहार की ओर से दूसरा प्रवेश द्वार बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन विकास कार्यों के लिए टेंडर प्रक्रिया हो चुकी है और बजट भी पास किया जा चुका है।
ये काम होंगे
1910 करोड़ रुपए से गोमतीनगर रेलवे स्टेशन बनेगा आधुनिक और विश्वस्तरीय
1800 करोड़ रुपए से चारबाग रेलवे स्टेशन का होगा पुर्नविकास
26 करोड़ रुपए से आलमनगर स्टेशन पर यात्री सुविधाओं का विकास
बेहतर रेल संचालन के लिए लखनऊ-कानपुर तक दस स्टेशनों पर इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग. उतरेटिया पर 48.95 लाख रुपए से ओवरब्रिज का निर्माण
गोमतीनगर के मल्हौर क्रासिंग पर ओवरब्रिज का निर्माण
चारबाग में प्लेटफार्म नम्बर 4 व 5 पर दो स्केलेटर व एक लिफ्ट का उदघाटन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here