उत्तराखंड: विपक्ष के हंगामे के बीच शुरू हुआ विधानसभा का बजट सत्र

0
170

उत्तराखंड के गैरसैंण में विधानसभा का बजट सत्र आंदोलनकारियों के हंगामे के बीच शुरू हो गया है। गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाए जाने की मांग को लेकर यहां सदन के भीतर और बाहर दोनों जगह आंदोलन की स्थिति रही। राज्यपाल ने सरकार की दशा और दिशा के बारे में अपने अभिभाषण में विस्तार से जानकारी देनी शुरू की तो कांग्रेस के विधायकों ने सदन के भीतर जबर्दस्त नारेबाजी की।बाद में अपनी सीटों से उठकर अध्यक्ष की मेज के आगे जाकर गैरसैंण को स्थायी राजधानी घोषित करने की मांग करते रहे। पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विधानसभा सत्र को ऐतिहासिक बताया। उन्होंने कहा कि पिछले दस वर्षों तक कांग्रेस सत्ता में रही और कुछ नहीं कर सकी अब यह ड्रामा कर रही है। विधायक व उत्तराखंड विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल ने कहा कि हमने गैरसैंण में सचिवालय की स्थापना के लिए 54 करोड़ की धनराशि की व्यवस्था की थी लेकिन इस पर अभी तक काम नहीं हो सका।
अभिभाषण में राज्यपाल केके पाल ने सरकार की प्राथमिकताओं का जिक्र करते हुए कहा कि राज्य निर्माण की जो मूलभूत चुनौतियां थीं, इस एक साल में उनका समाधान का प्रयास किया गया है। 32 पेज के अभिभाषण में राज्यपाल ने 35 से अधिक क्षेत्रों में जानकारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here