मुंबई: रेलवे में नौकरी के लिए छात्रों का प्रदर्शन, ट्रेन संचालन प्रभावित

0
86

मुंबई
मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस और माटुंगा रेलवे स्टेशन के बीच प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने पटरियों पर कब्जा जमा लिया है। ये छात्र रेलवे में नौकरी की मांग कर रहे हैं। रेलवे पटरियों पर छात्रों के बैठने से ट्रेनों का आवागमन बाधित हो रहा है और आम-जनजीवन भी प्रभावित हो रहा है। जानें, मुंबई ‘रेल रोको’ के पल-पल के बताया जा रहा है कि सैकड़ों की संख्या में ये छात्र रेलवे की सरकारी नौकरी के लिए आंदोलन कर रहे हैं। छात्रों को रेल पटरियों से हटाने के लिए पुलिस मौके पर पहुंच रही है। बता दें कि ऑफिस टाइम होने और सीएसटी-माटुंगा की लाइन पर ज्यादा ट्रैफिक होने से लोगों को भी परेशानी हो रही है। लोकल ट्रेनों के अलावा लंबी दूरी के ट्रेनें भी प्रदर्शन के चलते लेट हो रही हैं।ऐसी हालत में पुलिस मौके पर पहुंचकर छात्रों को जल्दी ही मनाकर वहां से हटाना चाहेगी। बता दें कि इन छात्रों की मांग है कि इन्हें रेलवे में सरकारी नौकरी दी जाए।बताया जा रहा है कि ये अप्रेंटिस स्टूडेंट सालों तक काम कर चुके हैं लेकिन इन्हें नौकरी नहीं मिल पा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रों को कंट्रोल में लाने के मुंबई पुलिस ने लाठीचार्ज किया तो छात्रों ने इसके जवाब में ट्रेनों पर पर पत्थर फेंके।
क्या है मांग
विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्र में रेलवे में अप्रेंटिस की परीक्षा देने वाले हैं। परीक्षा के लिए फॉर्म भरे जाने की आखिरी तारीख 31 मार्च है। ये छात्र परीक्षा में 20 पर्सेंट अपर लिमिट को हटाने की मांग कर रहे हैं। इनकी मांग है कि इसमें सिर्फ उन्हीं छात्रों की भर्ती हो जो टेस्ट पास करें।
यात्रियों को रेलवे की सलाह
सेंट्रल रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर- 23061763 जारी किया है, साथ ही साथ रेलवे ने यात्रियों को सलाह दी है कि वह वेस्टर्न लाइन या हार्बर लाइन का प्रयोग करें। बताया जा रहा है कि सीएसटी और खोपोली के बीच ट्रेन संचालन पूरी तरह से ठप हो गया है। ट्रेनें सिर्फ कुर्ला तक ही जा रही हैं।
बेस्ट उतारेगी और बसें
ट्रेनों के संचालन में आ रही बाधा को देखते हुए बेस्ट ने निर्णय लिया है कि वह माटुंगा और अन्य स्टेशनों के बाहर और बसें लगाएगी, जिससे यात्रियों को दफ्तर पहुंचने में दिक्कत ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here