पटना AIIMS में 19 डॉक्‍टरों की फर्जी नियुक्ति, पोल खुली तो मचा हड़कंप

0
167

पटना एम्स के 19 डॉक्टरों की फर्जी तरीके से हुई नियुक्ति के मामले में रिपोर्ट आने के बाद ये डॉक्टर दोषी पाए गए हैं।
पटना । अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पटना के 19 डॉक्टरों की डिग्री को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। इन डॉक्टरों की डिग्री को लेकर संस्थान के पूर्व डिप्टी डायरेक्टर ने सवाल उठाया है। उप निदेशक द्वारा उठाये गए सवालों की जांच के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने आर्या कमेटी का गठन किया गया था।कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में संस्थान के 19 डॉक्टरों को दोषी पाया है, जिन्होंने अधूरी डिग्री के आधार पर नौकरी पाई है। आर्या कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद संस्थान के निदेशक डॉ. प्रभात कुमार सिंह ने आरोपी डॉक्टरों से शोकॉज पूछा है।निदेशक का कहना है कि डॉक्टरों का जवाब आते ही स्वास्थ्य मंत्रालय को रिपोर्ट भेज दी जाएगी। गौरतलब हो कि पटना एम्स में बहाल डॉक्टरों पर पूर्व डिप्टी डायरेक्टर ने अधूरे कागजात के बदौलत बहाल होने पर सवाल उठाया था।
संस्थान के 57 में से 19 दोषी
संस्थान के 57 डॉक्टरों की डिग्री की जांच की गई जिसमें से 19 को दोषी पाया गया। इनमें से अधिकांश के पास अधूरी डिग्री है। जानकारों को कहना है कि अगर आरोपी डॉक्टर अपनी डिग्री सही साबित नहीं कर पाए तो नौकरी भी जा सकती है।
आर्या कमेटी की जांच रिपोर्ट आ गई है, उसमें 19 डॉक्टरों को दोषी माना है, उनसे शोकॉज पूछा गया है। जो जवाब आएगा उसे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को भेज दिया जाएगा।
डॉ.प्रभात कुमार सिंह, निदेशक, पटना एम्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here