मध्य प्रदेश: डॉ. हरि सिंह गौर यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में वॉर्डन ने चेकिंग के नाम पर उतरवाए छात्राओं के कपड़े

0
101

सागर
मध्यप्रदेश के सागर जिले स्थित प्रतिष्ठित डॉ. हरि सिंह गौर यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में चेकिंग के नाम पर छात्राओं के कपड़े उतरवाने का मामला सामने आया है। हॉस्टल में रह रहीं करीब 40 छात्राओं ने इसके लिए हॉस्टल वॉर्डन पर आरोप लगाया है। पीड़ित लड़कियों का कहना है कि हॉस्टल परिसर में इस्तेमाल किया हुआ सैनिटरी नैपकिन मिलने के चलते वॉर्डन ने ऐसी हरकत की।बताया जा रहा है कि हॉस्टल परिसर में गंदा नैपकिन मिलने से वॉर्डन काफी गुस्से में आ गई। यह पता करने के लिए कि किसने गंदा नैपकिन फेंका है, वॉर्डन ने छात्राओं की तलाशी लेनी शुरू कर दी। तलाशी लेने के चक्कर में वॉर्डन ने अमानवीयता की हद पार करते हुए लड़कियों के कपड़े तक उतरवा लिए।
अपने साथ हुई घटना से छात्राएं सदमे में आ गईं। उन्होंने इसके खिलाफ कार्रवाई के लिए यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर आरपी तिवारी को लिखित शिकायत भेजी। आरपी तिवारी ने कहा, ‘यह घटना बेहद दुर्भाग्यवश और निंदनीय है। मैंने छात्राओं से हमेशा कहा है कि वे मेरी बेटियों जैसी हैं और मैं उनसे इस घटना के लिए माफी मांगता हूं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं उन्हें आश्वासन दिया है कि इसके खिलाफ ऐक्शन लिया जाएगा। अगर वॉर्डन दोषी पाई जाती है तो उनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई होगी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here