केसी त्यागी का बड़ा बयान-कानून का मखौल उड़ाने से गठबंधन पर असर पड़ेगा

0
142

जदयू नेता केसी त्यागी ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि कानून का मखौल उड़ाने से इसका गठबंधन पर भी असर पड़ेगा। अर्जित या तो सरेंडर करें या गिरफ्तारी दें।
पटना । जदयू के राष्ट्रीय महासचिव के सी त्यागी ने अश्विनी चौबे के पुत्र अर्जित शाश्वत को लेकर बड़ा बयान दिया है, उन्होंने कहा कि या तो अर्जित शाश्वत सरेंडर करें या उनकी गिरफ्तारी हो। उनके इस बयान पर एनडीए में ही घमासान की संभावना है।
के सी त्यागी ने कहा कि कानून को अपमान बताना किसी भी गठबंधन के लिए घातक हो सकता है। कोई भी एफआइआर की कॉपी को रद्दी का कागज बताता है तो यह कानून का अपमान है। हम एनडीए को 2010 वाली ऊंचाई पर ले जाना चाह रहे है, लेकिन ऐसी घटना से गठबंधन को धक्का लगेगा।अगर एनडीए के मंत्री ही ऐसी भाषा का उपयोग करेंगे, जिसका फायदा विपक्षी दल उठाएंगे जो अच्छा नहीं है। ये सभी बातें गठबंधन के लिए सही नहीं है।बता दें कि बिहार के भागलपुर में हुए सांप्रदायिक हिंसा के मामले में आरोपी बेटे अर्जित चौबे को केंद्र सरकार में मंत्री अश्विनी चौबे ने बेकसूर बताया है। चौबे ने सोमवार को बेटे को निर्दोष बताते हुए क्षेत्र के अधिकारियों पर दंगाईयों के लिए नरम रुख रखने और बेवजह बेटे पर एफआईआर दर्ज करने की बात कही है, साथ ही पुलिस अधिकारियों पर ही कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि कोई भी जांच हो जाए बेटा बेकसूर निकलेगा।

केसी त्यागी ने कहा-जदयू ने बड़े भाई की भूमिका निभाई, सीट पर फैेसला कर लें लोग
यह भी पढ़ें

चौबे ने राजद और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर राज्य का माहौल खराब करने का आरोप लगाया। बिहार के भागलपुर में 17 मार्च को नाथनगर में दो पक्षों के बीच हुआ विवाद हुआ था। इसमें अर्जित पर एफआईआर दर्ज की गई थी। मामले में अर्जित के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here