दिल्ली में भरे बाजार चाकूबाजी से सनसनी, पति को बचाने की कोशिश में पत्नी की मौत

0
235

नई दिल्ली
साउथ-ईस्ट दिल्ली के गोविंदपुरी इलाके में बुधवार रात पति को बचाने की कोशिश में पत्नी की जान चली गई। दो बदमाशों ने पति, चार बच्चों और सैकड़ों दुकानदारों के सामने 26 साल की सुमन पर चाकू से कई वार किए। उन्हें अस्पताल ले जाया गया पर ज्यादा खून बहने की वजह से उनकी मौत हो गई। दरअसल, दोनों आरोपी सुमन को गलत तरीके से छूने की कोशिश कर रहे थे, इस पर उनके पति उमेश ने विरोध किया तो झड़प हो गई। आरोपियों ने चाकुओं से वार किए तो सुमन ने अपने पति को बचाने की कोशिश की जिससे उनकी छाती पर चाकू लग गया।आरोपियों ने महिला के पति पर भी चाकू से वार किए। देर रात इलाज के दौरान सुमन की मौत हो गई। पुलिस ने मर्डर केस दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों को घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने ही पकड़ लिया था और पिटाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस के मुताबिक, वारदात बुधवार रात करीब पौने 9 बजे गोविंदपुरी के बुध बाजार इलाके में आरडी मार्ग पर हुई।संगम विहार इलाके में नीम चौक के पास रहने वाले उमेश दुबे (29) पेशे से ड्राइवर हैं और कैब चलाते हैं। वह अपनी पत्नी सुमन और चार बच्चों के साथ संगम विहार में रहते हैं। बच्चों की उम्र 2 से 5 साल के बीच है। बुधवार रात को उमेश और सुमन अपने बच्चों को लेकर बुध बाजार में खरीदारी करने गए थे। जब वे लोग एक शॉप के बाहर खड़े होकर कुछ सामान देख रहे थे, तभी पीछे से दो लड़के आए और सुमन के बेहद नजदीक सटकर खड़े हो गए।इस पर उमेश ने आपत्ति जताते हुए उन लड़कों को डांटा। दोनों लड़कों के साथ उनकी बहस भी हुई। पुलिस सूत्रों का कहना है कि उमेश को यह भी लग रहा था कि शायद वे लड़के उनकी पत्नी का पर्स या जूलरी चुराने के इरादे से उनके नजदीक आए हैं। इसी वजह से उन्होंने लड़कों को दूर हटकर खड़े होने के लिए कहा। इसी बात पर दोनों लड़के उनसे उलझ पड़े। कुछ देर बाद जब उमेश और सुमन घर लौट रहे थे, तो चौक के पास उन दोनों लड़कों ने फिर से उन्हें रोक लिया और उमेश के साथ झगड़ा करने लगे।इसी दौरान एक लड़के ने गुस्से में आकर चाकू निकाल लिया और उमेश पर वार करने लगा, जिससे उमेश जख्मी हो गए। अपने पति को बचाने के लिए सुमन चीखी चिल्लाई, लेकिन जब कोई उनके बचाव में आगे नहीं आया, तो वह खुद अपने पति को बचाने की कोशिश करने लगीं। इस पर लड़कों ने सुमन पर भी चाकू से तीन बार वार कर दिए, जिसमें से एक वार सुमन की छाती में लगा, जिसकी वजह से वह गंभीर रूप से जख्मी हो गईं।
वारदात के बाद घटनास्थल पर भगदड़ मच गई। उसी दौरान कुछ लोगों ने दोनों को पकड़ लिया और उनकी जमकर धुनाई की। किसी ने पुलिस कॉल कर दी, जबकि उधर उमेश कुछ लोगों की मदद से अपनी पत्नी को इलाज के लिए अस्पताल ले गए। पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो वहां जख्मी हालत में वे दोनों आरोपी लड़के मिले, जिन्हें पब्लिक ने पकड़ रखा था। उनकी पहचान दक्षिणपुरी के रहने वाले अजय (23) और बिजेंदर (24) के रूप में हुई।
पुलिस ने घटनास्थल से वारदात में इस्तेमाल एक चाकू भी बरामद किया। पुलिस आसपास के अस्पतालों में सुमन और उमेश को तलाशती रही, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला। रात को होली फैमिली हॉस्पिटल से पुलिस को कॉल आई कि चाकू के वार से घायल सुमन ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। उमेश के बयान के आधार पर केस दर्जकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। जांच में पता चला कि बिजेंदर के खिलाफ आरके पुरम थाने में भी स्नैचिंग का एक केस दर्ज है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.