गुड न्यूज: देश के 50 करोड़ लोगों को कल से मिलेगा 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा

0
238

एक अप्रैल से शुरू हो रहे नए वित्त वर्ष में आयकर, बीमा, बैंकिंग और जीएसटी के क्षेत्र में कई बड़े बदलाव हो रहे हैं। इनमें सबसे बड़ा बदलाव देश के 50 करोड़ गरीब परिवारों को मिलने वाला 5 लाख रुपये तक स्वास्थ्य बीमा है। यह योजना एक अप्रैल से ही शुरू हो रही है। इससे सीधा फायदा देश के आम लोगों को ही होगा। आइए जानते हैं कि ‘आयुष्मान योजना’ के साथ अन्य बड़े बदलावों के बारे में।
आयुष्मान योजना का लाभ
-5 लाख रुपये तक का बीमा प्रत्येक परिवार को
-अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद का खर्च भी शामिल
–10.74 करोड़ परिवार को फायदा मिलेगा
–पैनल में शामिल किसी भी अस्पताल में कैशलेस इलाज
–12,000 करोड़ रुपये योजना की अनुमानित लागत
मानक कटौती
-40,000 रुपये की मानक कटौती का लाभ मिलेगा वेतन भोगियों को
-19,200 का परिवहन भत्ता और 15,000 रुपये के मेडिकल भत्ते की सुविधा वापस ली गई
स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी में ज्यादा छूट
–10 फीसदी छूट दो साल के बीमा कवर के लिए 40,000 रुपये देने पर
–दोनों साल 20-20 हजार की कर छूट का दावा भी कर सकते हैं
इलाज खर्च पर टैक्स में राहत
-1 लाख की गई गंभीर बीमारियों पर मिलने वाली टैक्स छूट पर
-80,000 रुपये है वर्तमान में 80 से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों के लिए
–60,000 रुपये की सीमा 60-80 साल वरिष्ठ नागरिकों के लिए
वरिष्ठ नागरिकों को ज्यादा छूट
–50,000 रुपये टैक्स छूट की सीमा की गई स्वास्थ्य बीमा प्रीमियर और आम मेडिकल खर्च पर
–30,000 रुपये थी पहले यह सीमा सेक्शन 80डी के तहत
वरिष्ठ नागरिकों को ब्याज में कर राहत
-जमा पर मिलने वाला ब्याज टैक्स फ्री
-5 गुना बढ़ाकर 50,000 रुपये की गई जमा से प्राप्त आय पर टैक्स छूट की सीमा
प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में जमा की सीमा बढ़ी
-15 लाख रुपये की गई निवेश की सीमा प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत
-7.5 लाख रुपये थी पहले यह सीमा
-2020 तक किया गया योजना का विस्तार
एनपीएस से आम लोग भी निकाल सकेंगे पैसे
–नेशनल पेंशन स्कीम में जमा रकम निकालने पर टैक्स छूट का लाभ गैर-कर्मचारी वर्ग को भी मिलेगा
डाकघर पेंमेट बैंक बनेंगे
–1.55 लाख डाकघर देशभर के पेमेंट बैंक के रूप में भी सेवाएं देंगे
–1 लाख रुपये तक का बचत खाता खोल सकेंगे
–25,000 तक की जमा राशि पर 5.5% ब्याज, चालू खाता और थर्ड पार्टी इंश्योरेंस जैसी सुविधाएं मिलेंगी
–पोस्ट मैन और ग्रामीण डाक सेवक शहरी और ग्रामीण इलाकों में डिजिटल भुगतान सेवा पहुंचाएंगे।
स्टेट बैंक ने जुर्माना घटाया
–75% तक घटाया बचत खाते में पर्याप्त राशि नहीं रखने पर लगने वाला जुर्माना
-15 रुपये और जीएसटी से ज्यादा जुर्माना नहीं लगेगा किसी भी खाताधारक पर
ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना आसान होगा
–लर्निंग डीएल, नया डीएल, डीएल के नवीनीकरण, नाम-पता बदलने के लिए अलग-अलग फार्म भरने के बजाए सिर्फ फार्म-2 भरना होगा।
–जटिलता समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन किया गया है।
–इसमें सड़क हादसे में मृत्यु होने पर अंगदान करने का प्रावधान है।
कार-बाइक का बीमा
सस्ती
–1,000 सीसी से कम इंजन क्षमता वाली कार के लिए प्रीमियम 10 फीसदी सस्ता होगा।
–75 सीसी से कम इंजन क्षमता वाली बाइक का प्रीमियम 25 फीसदी तक सस्ता होगा।
महंगा
–350 सीसी से ज्यादा इंजन की क्षमता (सुपर बाइक्स) पर प्रीमियम दोगुना
–150-350 सीसी की बाइक्स के लिए भी प्रीमियम 887 रुपये से बढ़कार 985 रुपये किया
‘लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन’
-10% टैक्स देना होगा एक साल से ज्यादा रखे शेयरों को बेचने से होने वाली कमाई पर
उपकर में बढ़ोतरी
-3 से 4 फीसदी हुआ स्वास्थ्य, शिक्षा में उपकर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.