सबसे ज्‍यादा मैच हारने के लिए बदनाम है गौतम गंभीर की दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स

0
242

10 साल तक फटाफट अंदाज में धूम मचाने वाला आईपीएल ग्यारहवीं बार धूम मचाने के लिए एक बार फिर हाजिर है।इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आगाज 7 अप्रैल से हो रहा है। आईपीएल का पहला मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियन्स के बीच होना है। इसमे कोई दो राय नहीं की आईपीएल का हर सीजन अपने आप में इतना रोमांचक होता है कि क्रिकेट को चाहने वाला कोई भी शख्स खुद को इससे दूर नहीं रख पाता। 20-20 क्रिकेट के इस फॉरमेट का हर मुकाबला बेहद दिलचस्प होता है और साथ ही साथ दिलचस्प होते हैं इन मुकाबलों में बनने वाले एक से बढ़कर एक रिकॉर्ड्स। आज हम आपको इस फॉरमेट में अब तक बने कुछ ऐसे ही बेहद अनूठे रिकॉर्ड्स से रुबरु कराएंगे। इंडियन प्रीमियर लीग का यह 11 वां सीजन है। आईपीएल के इतिहास में यानी पिछले सभी 10 सीजन को मिलाकर सबसे ज्यादा बार मैच हारने के लिए गौतम गंभीर की टीम दिल्ली डेयरडेविल्स बदनाम है। जी हां, इस फॉरमेट में दिल्ली डेयरडेविल्स सबसे ज्यादा बार (83 बार) हार का सामना कर चुकी है।
वहीं मुबई इंडियन्स के नाम है इस फॉरमेट में सबसे ज्यादा बार जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड। मुंबई इंडियंस ने अलग-अलग टीमों के खिलाफ कुल मिलाकर 92 बार जीत दर्ज की है। एक खास बात यह भी है कि इस आईपीएल में सबसे ज्यादा रन से जीतने का रिकॉर्ड भी मुंबई इंडियंस के नाम ही है। मुंबई इंडियंस ने दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम के खिलाफ 146 रनों से जीत दर्ज की थी। यह मुकाबला साल 2017 में दिल्ली में ही हुआ था। इस कमाल के फॉर्मेट में अब तक सबसे ज्यादा विकेट से जीतने का रिकॉर्ड रॉयल चैलेंजर्स बेंग्लुरु के नाम है।

रॉयल चैलेंजर्स दो बार 10 विकेट से मैच जीत चुकी है। वर्ष 2008 में मुंबई इंडियंस ने कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम को 87 गेंद शेष रहते ही हरा दिया था। बचे हुए गेंदों की संख्या के आधार पर मुंबई इंडियंस की यह रिकॉर्ड जीत है। यह मुकाबला मुंबई में हुआ था। सबसे कम विकेट से जीतने का रिकॉर्ड कोलकाता नाइट राइडर्स के नाम है। कोलकाता ने किंग्स इलेवन पंजाब को 1 विकेट से हराया था। यह मुकाबला वर्ष 2015 में कोलकाता में हुआ था। आईपीएल में अंतिम गेंद पर 22 बार मैच का परिणाम तय हुआ है। सबसे ज्यादा चार बार चेन्नई सुपर किंग्स ने अंतिम गेंद पर मैच जीतने का कारनामा किया है। तो, हैं ना ये कमाल के ये रिकॉर्ड्स। तो बस एक बार फिर दिल थाम कर बैठ जाइए क्योंकि 7 अप्रैल से शुरू हो रहा है दनादन क्रिकेट का ये महामुकाबला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here