ममता के बाद अब चंद्रबाबू का दिल्ली दौरा, विपक्षी दल के नेताअों से कर रहे हैं मुलाकात

0
153

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के बाद अब आंध्र प्रदेश के सीएम और तेलुगू देशम पार्टी के अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू दिल्ली के दौरे पर हैं। वे थर्ड फ्रंट के लिए विपक्ष को करेंगे एकजुट करने की कोशिश में जुट गए हैं। नायडू अाज सुबह संसद पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले महात्मा गांधी की प्रतिमा को नमन किया। इसके बाद नायडू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अंदाज में संसद की चौखट को नमन करते हुए अंदर दाखिल हुए। संसद में उन्होंने एनसीपी प्रमुख शरद पवार, फारुक अब्दुल्ला, ज्योतिरादित्य सिंधिया अादि से मुलाकात की। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर एक तरफ जहां कांग्रेस विपक्ष के बाकी दलों को एकजुट करने की कोशिश में जुटी है। वहीं, दूसरी ओर तीसरे मोर्चे की कवायद भी जोर पकड़ रही है। गैर-भाजपा और गैर-कांग्रेसी दलों को लेकर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बीते दिनों कई दलों के नेताओं से दिल्ली में मुलाकात की थी। अब आंध्र प्रदेश के सीएम और तेलुगू देशम पार्टी के अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू भी ‘थर्ड फ्रंट’ बनाने की कोशिश में जुट गए हैं।चंद्रबाबू नायडू अब दिल्ली आकर कई क्षेत्रीय दलों के प्रमुखों से मुलाकात कर रहे हैं। हालांकि, टीडीपी सूत्रों का कहना है कि नायडू का ये दौरा सिर्फ आंध्र प्रदेश के हितों को लेकर है। लेकिन, जानकारों का मानना है कि अपने दौरे पर टीडीपी प्रमुख ‘थर्ड फ्रंट’ की पहल भी कर सकते हैं। चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि यह दौरा आंध्र के 5 करोड़ लोगों के हितों की रक्षा के लिए है। हम केंद्र से मांग कर रहे हैं कि वह अपने आश्वासन को पूरा करे। दो दिन के दिल्ली दौरे पर आ रहे नायडू कई दलों के नेताओं से बारी-बारी से मुलाकात करेंगे। एनडीए से नाता तोड़ने के बाद टीडीपी प्रमुख का ये पहला दिल्ली दौरा है। भाजपा सरकार द्वारा वादे नहीं निभाए जाने से टीडीपी बेहद नाराज है। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर राज्य के सीएम चंद्रबाबू नायडू कई बार पीएम मोदी से मुलाकात कर चुके हैं। कोई नतीजा नहीं निकलने पर बीते दिनों टीडीपी ने एनडीए से अलग होने का ऐलान किया था। टीडीपी को दो सांसद अशोक गजपति राजू और वाईएस चौधरी मोदी कैबिनेट से इस्तीफा दे चुके हैं। बता दें कि थर्ड फ्रंट को लेकर इसके पहले टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी दिल्ली में कई दलों के नेताओं से मिल चुकी हैं। उन्होंने शिवसेना नेता संजय राउत, एनसीपी नेता शरद पवार से मुलाकात की थी। इसके बाद टीएमसी प्रमुख ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि भाजपा में अच्छे लोग नहीं हैं। अखिलेश और मायावती एक हो जाएं, तो देश का कुछ नहीं बिगड़ सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here