CBSE पेपर लीक मामला: पुलिस ने की स्कूल प्रिंसिपल से पूछताछ

0
82

नई दिल्ली
दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को उस स्कूल के प्रिंसिपल से पूछताछ की, जिसके दो अध्यापकों को सीबीएसई पेपर लीक मामले में कथित भूमिका के चलते गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि रविवार को एक निजी स्कूल के दो अध्यापकों ऋषभ और रोहित को 12वीं कक्षा के इकनॉमिक्स पेपर लीक मामले में गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में इन दोनों अध्यापकों के साथ एक कोचिंग सेंटर के ट्यूटर तौकीर की भी गिरफ्तारी हुई है।पुलिस के मुताबिक ऋषभ, रोहित और तौकीर पिछले पांच साल से एक-दूसरे को जानते थे। इस केस को लेकर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘एग्जाम से पहले प्रश्न पत्र को सीबीएसई सिंडिकेट बैंक की विभिन्न शाखाओं के लॉकर में जमा कराती है। एग्जाम वाले दिन सुबह-सुबह सीबीएसई के प्रतिनिधि अपने एरिया के बैंक से पेपर कलेक्ट करते हैं और फिर अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले एग्जामिनेशन सेंटर पर पहुंचाते हैं। स्कूल में पेपर पहुंचाने का समय लगभग 10 बजे होता है, मगर बवाना के निजी स्कूल में ऐसा नहीं हुआ।’पुलिस की गिरफ्त में आए तीनों आरोपियों ने कहा है कि सीबीएसई अधिकारी के.एस. राणा एग्जाम वाले दिन सुबह 9 बजे तक प्रश्न पत्र स्कूल में पहुंचा देते थे। 9 बजकर 5 मिनट पर प्रश्न पत्र के लिफाफे को डी-सील कर दिया जाता था। स्कूल के स्टूडेंट्स को सुबह 9 बजे बुला लिया जाता था और एक घंटे के अंतराल में स्टूडेंट्स को प्रश्नों के उत्तर बता दिए जाते थे। इसके बाद स्कूल से ही एक बस में बैठाकर बच्चों को परीक्षा केंद्र ले जाया जाता था। इस स्कूल का परीक्षा केंद्र लगभग 2 किलोमीटर दूर एक स्कूल में था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here