मोदी इसी महीने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे: गडकरी

0
160

देश के पहले स्मार्ट और हरित ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे (ईपीई) का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसी महीने उद्घाटन करेंगे। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में पांच लाख टन सीमेंट और एक लाख टन इस्पात का इस्तेमाल हुआ है।प्रधानमंत्री 135 किलोमीटर के छह लेन वाले एक्सप्रेस-वे को राष्ट्र को समर्पित करेंगे जिस का इस्तेमाल करने पर कुछ पाबंदियां होंगी। इसके साथ ही दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस मार्ग का पहला चरण भी खुल जाएगा। दिल्ली की पूर्वी सीमा के बाहर बनाए गए ईस्टर्न पेरिफरल एक्सप्रेस-वे के निर्माण पर 11,000 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। इससे राष्ट्रीय राजधानी में भीड़भाड़ को कम किया जा सकेगा।यात्रा के आधार पर लिया जाएगा टोल
ईपीई में स्मार्ट और इंटेलिजेंट राजमार्ग यातायात प्रबंधन प्रणाली (एफटीएमएस) और वीडियो इंसिडेंट डिटेक्शन प्रणाली (वीडीएस) लगाई गई है। साथ ही इसमें ऐसी बंद टोल प्रणाली है जिसमें पूरे मार्ग के लिए नहीं बल्कि किसी के द्वारा की गई यात्रा के आधार पर टोल लगेगा। इस एक्सप्रेस-वे को सौर लाइटों से रोशन किया जाएगा। गडकरी ने संवाददाताओं से कहा, यह राजमार्ग निर्माण में एक नया पैमाना होगा। पर्यावरणनुकूल होने के साथ इसमें विश्वस्तरीय सुरक्षा फीचर और स्मार्ट-इंटरैक्टिव ढांचे की खूबियां हैं।4,420 करोड़ से निर्माण हुआ
इस नई परियोजना का शिलांयास मोदी ने 5 नवंबर, 2015 को किया था। इससे रोजाना राष्ट्रीय राजधानी से गुजरने वाले करीब दो लाख वाहनों को इस बाईपास पर भेजा जा सकेगा, जिससे प्रदूषण में भी कमी आएगी। मंत्री ने बताया कि परियोजना के केवल निर्माण की लागत ही 4,420 करोड़ रुपये है।
रिकॉर्ड 500 दिनों में पूरी होगी परियोजना
गडकरी ने दावा किया कि यह परियोजना को 500 दिन के रिकॉर्ड समय में पूरा होने जा रही है जबकि लक्ष्य 910 दिन का था। उन्होंने बताया कि इस परियोजना को प्रदूषण पर अंकुश की दृष्टि से डिजाइन किया गया है। इससे दिल्ली और आसपास के इलाकों को भीड़भाड़ से मुक्त करने में मदद मिलेगी। कोई भी ऐसा वाणिज्यिक वाहन जिसे दिल्ली नहीं आना है, उसे दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here