आंध्र प्रदेश: विशेष राज्य के मुद्दे पर YSR कांग्रेस के 5 सांसदों का इस्तीफा

0
71

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर वाईएसआर कांग्रेस के 5 सांसदों ने लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन को इस्तीफा सौंप दिया। बजट सत्र के दौरान सत्ताधारी तेलगुदेशम पार्टी (टीडीपी) और विपक्षी दल वाईएसआर कांग्रेस आंध्र के विशेष दर्जे की मांग को लेकर संसद के बाहर लगातार प्रदर्शन कर रही हैं।इस्तीफा देने वालों में वी. वारा प्रसाद राव, वाई. वी. सुब्बा रेड्डी, पी.वी. मिधुन रेड्डी, वाई. एस. रेड्डी, मेकापति राजामोहन रेड्डी सांसद शामिल हैं। आपको बता दें कि लोकसभा में वाईएसआर कांग्रेस के कुल 9 सांसद हैं, जो घटकर अब 4 ही रह जाएंगे. वहीं राज्यसभा में वाईएसआर के दो सांसद हैं। आपको बता दें कि टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस विशेष राज्य के मुद्दे पर एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस भी दे चुकी है।दूसरी ओर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडु ने राज्य और आंध्रप्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 को लेकर केंद्र के रवैये के विरोध में अपने मंत्रियों और टीडीपी विधायकों की एक साइकल रैली का नेतृत्व किया। नायडु ने केंद्र पर अधिनियम को लागू करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुये उस पर प्रदेश के विकास को बाधित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि राज्यसभा में प्रदेश से किये गए वादों को भी पूरा नहीं किया गया।इससे पहले अपनी पार्टी के सांसदों और वरिष्ठ नेताओं को टेलीकॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुये टीडीपी ने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब देश के लोग बीजेपी को खारिज कर देंगे। उन्होंने आरोप लगाया, ” बीजेपी बांटो और राज करो की नीति अपना रही है। वह विपक्ष को बांटने का प्रयास कर रही है। वाईएसआर कांग्रेस के अपने सांसदों का इस्तीफा दिलवाने के फैसले के संदर्भ में नायडु ने कहा कि यह कुछ और नहीं बल्कि समस्या से भागना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here