NCERT की किताबों में होंगी बाल सुरक्षा योजनाओं से जुड़ी ये विशेष जानकारियां

0
143

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने बताया कि कक्षा छह से लेकर 12 तक के कोर्स की सभी किताबों के कवर के अंदर के पन्ने पर पॉक्सो एक्ट और सातों दिन 24 घंटे बच्चों की मदद के लिए उपलब्ध चाइल्ड हेल्पलाइन के नंबर प्रकाशित किए जा रहे हैं।
राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) द्वारा किताबों में इसे प्रकाशित किया जा रहा है। यह कदम बच्चों को सुरक्षा और शिकायतों के संदर्भ में जानकारी प्रदान करने के मकसद से उठाया गया है। साल 2017 में महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने एनसीईआरटी और मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से एनसीईआरटी के प्रकाशनों के माध्यम से पॉस्को-ई बॉक्स और चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर-1098 का प्रचार करने, बच्चों के यौन उत्पीड़न पर बनी शैक्षणिक फिल्मों की स्कूलों में स्क्रीनिंग करने और सहायक स्टाफ की नियुक्ति को लेकर सख्त मानदंड निर्धारित करने का अनुरोध किया था।यह कदम उठाए जाने के बाद मेनका ने अपने सुझावों को लागू करने के लिए जावड़ेकर और एनसीईआरटी का आभार जताया। महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के मुताबिक, पाठ्यक्रमों की किताबों के जरिये यह जानकारी करीब 15 लाख स्कूलों के 26 करोड़ स्कूली छात्रों और 10 लाख शिक्षकों-शिक्षिकाओं तक पहुंचने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here