आंबेडकर की जयंती पर पंजाब, गुजरात समेत कई जगहों पर छिटपुट हिंसा

0
166

संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की 127वीं वर्षगांठ के मौके पर एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ देश के कई हिस्सों में तनाव पैदा हो गया। पीएम मोदी ने ट्वीट किया- पुज्य बाबा साहब ने समाज के निचले और गरीब तबके से आनेवाले लाखों लोगों को उम्मीदें दी। संविधान निर्माण को लेकर उनके प्रयासों के चलते हम हमेशा उनका आभारी बने रहेंगे।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा- डॉक्टर बी.आर. अंबेडकर को उनके जन्मदिवस के मौके पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। हमारे राष्ट्र के आदर्श डॉक्टर भीमराव अंबेडकर बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे जिन्होंने वंचितों और महिलाओं को समान अधिकार सुनिश्चित करने और अन्य विसंगतियों के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी। मायावती ने कहा- मैं मोदी जी और उनकी सरकार को यह बताना चाहती हूं कि बाबा साहब की जीवनी से जुड़ी जगहों के उद्घाटन और उनके नाम से नई योजनाओं के लाने से दलितों का कोई विकास नहीं होनेवाला है।अहमदाबाद में राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच के सदस्यों समेत पांच लोगों को उस वक्त हिरासत में लिया गया जब वे बीजेपी सांसद किरीट सौमैय्या की तरफ सारंगपुर में आंबेडकर की प्रतिमा पर फूलों की माला पहनाने का विरोध कर रहे थे।संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की 127वीं वर्षगांठ के मौके पर एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ देश के कई हिस्सों में तनाव पैदा हो गया। पीएम मोदी ने ट्वीट किया- पुज्य बाबा साहब ने समाज के निचले और गरीब तबके से आनेवाले लाखों लोगों को उम्मीदें दी। संविधान निर्माण को लेकर उनके प्रयासों के चलते हम हमेशा उनका आभारी बने रहेंगे।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा- डॉक्टर बी.आर. अंबेडकर को उनके जन्मदिवस के मौके पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। हमारे राष्ट्र के आदर्श डॉक्टर भीमराव अंबेडकर बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे जिन्होंने वंचितों और महिलाओं को समान अधिकार सुनिश्चित करने और अन्य विसंगतियों के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी। मायावती ने कहा- मैं मोदी जी और उनकी सरकार को यह बताना चाहती हूं कि बाबा साहब की जीवनी से जुड़ी जगहों के उद्घाटन और उनके नाम से नई योजनाओं के लाने से दलितों का कोई विकास नहीं होनेवाला है।अहमदाबाद में राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच के सदस्यों समेत पांच लोगों को उस वक्त हिरासत में लिया गया जब वे बीजेपी सांसद किरीट सौमैय्या की तरफ सारंगपुर में आंबेडकर की प्रतिमा पर फूलों की माला पहनाने का विरोध कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here