इस शख्स ने खोला ‘जूतों का अस्पताल’, उद्योगपति आनंद महिंद्रा बोले वाह!

0
77

सुरेंद्र कुमार, जींद
हरियाणा में जींद की पटियाला चौक पर जूते-चप्पलों की मरम्मत करने वाले एक शख्स नरसी राम रोजाना कुछ सौ रुपये कमाकर अपने घर का पेट पालते हैं। उन्हें शायद पता नहीं था कि उनकी एक नायाब कार्यशैली देश के दिग्गज उद्योगपति मुरीद हो जाएंगे और कहने को यह मजबूर हो जाएंगे कि इस शख्स को आईआईएम की टीचिंग फैकल्टी का दर्जा मिलना चाहिए।दरअसल, नरसी ने लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए बोर्ड लगाया है- ‘डॉ. नरसी राम- जख्मी जूतों का अस्पताल’। नरसी ने अपने बैनर में अस्पताल की तर्ज पर कई तरह कि जानकारी दे रखी है। मसलन लिखा है कि ओपीडी सुबह 9 से दोपहर 1 बजे, लंच दोपहर 1 से 2 बजे और शाम 2 से 6 बजे तक अस्तपाल खुला रहेगा। आगे लिखा है- ‘हमारे यहां सभी प्रकार के जूते जर्मन तकनीक से ठीक किए जाते हैं।’नरसी की तस्वीर वॉट्सऐप के जरिये मिलने पर महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा हैरान रह गए हैं। इस अनोखे मार्केटिंग स्टाइल पर महिंद्रा ने ट्वीट किया- ‘इस व्यक्ति को आईआईएम में टीचिंग फैकल्टी में होना चाहिए।’यही नहीं, महिंद्रा ने यहां तक कह डाला कि अगर नरसी अभी भी यह काम करते हों तो वह उनके ‘स्टार्टअप’ में निवेश भी करना चाहेंगे। निवेश की बात भले ही अभी दूर हो लेकिन महिंद्रा ग्रुप की टीम ने नरसी को फूल और मोमेंटो भिजवाया है। उन्हें महिंद्रा कंपनी के ट्रैक्टर पर बैठा कर सारे शहर में भी घुमाया गया।महिंद्रा का ट्वीट कई सौ बार रीट्वीट हो चुका है और इसे हजारों लाइक मिल चुके हैं। कोई ट्वीट कर आनंद महिंद्रा को इस मोची का पता बता रहा है तो कोई उनके इस ट्वीट की प्रशंसा कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here