नकदी संकट: इंक खत्म होने के कारण नोटों की छपाई रुकी

0
154

स्याही खत्म हो जाने के कारण यहां स्थित नोट मुद्रण कारखाने में 200 रुपये और 500 रुपये के नोटों की छपाई में रुकावट आ गयी है। एक श्रमिक नेता ने आज यह दावा किया।छापाखाना कामगार परिसंघ के अध्यक्ष जगदीश गोडसे ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘नोटों की छपाई में आयातित स्याही का इस्तेमाल होता है जो अभी उपलब्ध नहीं है। इसके कारण 200 रुपये और 500 रुपये के नोटों की छपाई रुक गयी है।उन्होंने कहा कि देश भर में नकदी की कमी की समस्या के पीछे यह भी एक कारण हो सकता है। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि नोटों की छपाई कब से बंद है।जब सरकार ने एक ही दिन पहले 500 रुपये के नोटों की छपाई पांच गुना बढाने का आदेश दिया है ताकि अगले महीने 75 हजार करोड़ रुपये के नये नोटों की आपूर्ति की जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here