पाकिस्तान ने अपने रक्षा बजट में 10 फीसदी की भारी बढ़ोत्तरी की

0
77

पाकिस्तान सरकार ने 2018-19 के लिए शुक्रवार को संसद में 5,661 अरब रुपये का बजट पेश किया. इस बार उसके रक्षा बजट में करीब दस फीसदी की भारी बढ़ोतरी की गई है.पाक के वित्त मंत्री एम इस्माइल ने छठा पूर्ण बजट पेश किया. पिछले वित्त वर्ष के दौरान पाकिस्तान का रक्षा बजट 999 अरब रुपये का था, जो इस बार बढ़ाकर 11 सौ अरब रुपये कर दिया गया है. इस पैसे का इस्तेमाल पाक अपनी सेना को मजबूत बनाने के लिए करेगा.पाकिस्तान की मुस्लिम लीग (PML-N) सरकार का यह छठा बजट है. साल 2013 में PML-N सरकार के बनने के बाद यह अब तक का सबसे बड़ा रक्षा बजट है.वित्त मंत्री इस्माइल ने बताया कि बजट में पिछली बार की अपेक्षा 13 फीसदी की वृद्धि हुई है. 2018-19 में जीडीपी वृद्ध‍ि का लक्ष्य 6.2 फीसदी रखा गया है. पिछले बजट में यह लक्ष्य छह फीसदी था, लेकिन अर्थव्यवस्था 5.8 फीसदी बढ़त का आंकड़ा ही छू सकी. अगले साल के लिए 4435 अरब रुपये करों से जुटाने का लक्ष्य तय किया गया है. पिछले वित्त वर्ष में 39 सौ अरब रुपये करों के संग्रह से मिले थे.अगर पिछले साल के घोषित बजट से तुलना की जाए तो रक्षा बजट में बढ़त करीब 20 फीसदी का है, हालांकि बाद में पिछले साल भी रक्षा बजट में संशोधन कर बढ़ा दिया गया था.पाक सरकार के इस बजट का विपक्ष ने विरोध भी किया, क्योंकि अब मौजूदा सरकार के कार्यकाल के महज तीन महीने बचे हैं. लेकिन वित्त मंत्री ने आलोचनाओं का जवाब देते हुए कहा कि सरकार बजट के बिना एक दिन भी नहीं चल सकती और संघीय बजट की मंजूरी के बिना प्रांतीय बजट भी नहीं पेश किए जा सकते.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here