राहुल गांधी पर ‘वंदेमातरम’ का अपमान करने का आरोप, कर्नाटक BJP ने जारी किया वीडियो

0
94

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला लगातार जारी है. जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है. वैसे-वैसे दोनों ही प्रमुख पार्टियां से नए-नए आरोप लेकर जनता के बीच पहुंच रही है. बीजेपी ने अपने ताजा हमले में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है. कर्नाटक बीजेपी ने एक वीडियो जारी कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर राष्ट्र गीत वंदेमातरम का अपमान करने का आरोप लगाया है. इस वीडियो जरिए बीजेपी ने दावा किया है कि राहुल गांधी एक चुनावी रैली में वंदेमातरम को एक लाइन में खत्म करने के लिए कह रहे हैं.

बीजेपी द्वारा शेयर किए गए वीडियो में राहुल गांधी कर्नाटक कांग्रेस के नेता और सांसद केसी वेणुगोपाल को अपनी घड़ी दिखाते हुए वंदेमातरम को एक लाइन में खत्म करने की बात कहते दिख रहे हैं. हालांकि यह वीडियो पूरा नहीं है और ना ही हम इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि करते है.

कर्नाटक बीजेपी ने लिखा, ‘साल 1937 में नेहरु ने जिन्ना को संतुष्ट करने के लिए वंदेमातरम की आखिरी तीन पंक्ति छोड़ दी थी, क्योंकि जिन्ना ने कहा था कि ये गीत मुसलमानों को परेशान करता है. आज राहुल गांधी ने से केवर एक लाइन में गाने को कहा, यह वाकया हमें याद दिलाता है कि कांग्रेस किस तरह से इस गीत का अपमान करती है. क्या अब भी हमें ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ के लिए और उदाहरणों की जरूरत है? आपको शर्म आनी चाहिए राहुल गांधी.’

दरअसल सबसे पहले ये वीडियो बीजेपी की आईटी सेल के अमित मालवीय ने यह लिखते हुए पोस्ट किया, ‘Well done Rahul Gandhi’ इसके बाद इस वीडियो को कर्नाटक बीजेपी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से नए स्टेट्स के साथ ट्वीट किया.

इस मामले में थोड़ी देर बाद बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा भी कूद पड़े. संबित पात्रा ने लिखा, ‘कर्नाटक में एक जनसभा के दौरान राहुल गांधी ने वंदेमातरम को केवल एक लाइन में खत्म करने के लिए कहा…इसीलिए हम उन्हें शहजादा कहते हैं… अधिकार जमाने का उनका भाव डराने वाला है, वह समझते हैं कि ये देश उनकी परिवारिक संपत्ति हैं. क्या वह अपनी मर्जी से राष्ट्रगीत को भी संशोधित कर सकते हैं?”

इस मामले पर कांग्रेस की तरफ से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया है. पार्टी ने फिर से सरकार बनने पर अगले पांच वर्षों में एक करोड़ नौकरियां देने का वादा किया है. राहुल ने इस घोषणापत्र को ‘कर्नाटक की जनता की आवाज’ करार दिया और कहा कि इसे ‘‘तीन या चार लोगों ने बंद कमरे में बैठकर तैयार नहीं किया है.’’ भाजपा पर कटाक्ष करते हुए राहुल ने कहा कि उसका घोषणापत्र कर्नाटक के लोगों के लिए नहीं होगा और उसमें आरएसएस के विचार की झलक होगी.

कर्नाटक चुनाव के लिए शुक्रवार (27 अप्रैल) को कांग्रेस का घोषणपत्र जारी करने की सूचना साझा करते हुए राहुल गांधी ने ट्वीट किया है, ‘‘यह कर्नाटक के लोगों के ‘मन की बात’ करता है. इसमें वह खास वादे हैं जिन्हें पूरा करने की हम मंशा रखते हैं. इसमें अगले पांच वर्ष में एक करोड़ नयी नौकरियों के सृजन का वादा भी है.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here