आठ दिन से जिंदगी की जंग लड़ रही थी छह साल की रेप पीड़िता, तोड़ा दम

0
48

बलात्कार की शिकार छह वर्षीय बच्ची ने आठ दिनों तक जीवन के लिए संघर्ष करते हुए रविवार को एससीबी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में दम तोड़ दिया। अस्पताल की अधीक्षक श्यामा कानूनगो ने बताया कि रविवार शाम बच्ची ने दम तोड़ दिया। पोस्टमार्टम के बाद पुलिसकर्मियों की उपस्थिति में उसका शव उसके परिवार को सौंपा जाएगा। यह बच्ची 21 अप्रैल की शाम सालेपुर थानाक्षेत्र के जगन्नाथपुर गांव में एक स्कूल में गंभीर हालत में मिली थी। उसके सिर, चेहरे, गले और गुप्तांगों पर गहरे जख्म थे। उसके अगले दिन गांव के ही 25 वर्षीय एक व्यक्ति को इस घटना के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था और उसे पोक्सो के तहत बलात्कार एवं हत्या के प्रयास के आरोपों में न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। सालेपुर के पुलिस निरीक्षक डीके मलिक ने कहा, चूंकि पीड़िता मर गई है, हत्या के प्रयास आरोप को हत्या के आरोप में तब्दील कर दिया जाएगा।साथ ही अस्पताल के अधीक्षक ने बताया कि वरिष्ठ डाक्टरों की टीम उसका इलाज कर रही थी। वह आईसीयू में थी। जीवनरक्षक प्रणाली पर रखे जाने के बाद भी उसकी हालत नहीं सुधरी। घटना के दिन लड़की शाम को बिस्किट खरीदने के लिए एक दुकान पर गई थी। जब वह नहीं लौटी तब परिवार के सदस्यों ने उसे ढूंढना शुरु किया। वह गांव के स्कूल में बेहोश मिली। वह निर्वस्त्र थी और उसके सिर एवं मुंह से खून निकल रहा था। जगन्नाथपुर गांव कटक से 30 किलोमीटर दूर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here