अमृतसर-हावड़ा मेल के यात्रियों से लूटपाट के दौरान दो की हत्या, एक की हालत नाजुक

0
70

पटना : राजधानी पटना में यदि आप सुबह-सवेरे किसी ट्रेन से उतरकर अपने गंतव्य तक जाने के लिए पैदल निकलते हैं, तो सावधान हो जायें. लुटेरों की नजर आपका पीछा कर रही है. जी हां, कुछ ऐसा ही हुआ है, उन तीन यात्रियों के साथ, जो मंगलवार को सुबह अमृतसर-हावड़ा मेल से उतरकर मधेपुरा जाने के लिए इंटरसिटी पकड़ने राजेंद्र नगर टर्मिनल जा रहे थे. लुटेरों ने उनसे लूटपाट की और उसके दौरान दो यात्रियों की चाकू मारकर हत्या कर दी, वहीं तीसरे की स्थिति गंभीर बतायी जा रही है. जानकारी के मुताबिक यह घटना पटना रेलवे स्टेशन और राजेंद्र नगर टर्मिनल के बीच स्थित काठपुल के पास की बतायी जा रही है. सुबह-सवेरे पंजाब से मजदूरी कर अपनी गाढ़ी कमाई लेकर बिहार पहुंचने वाले, मधेपुरा के मजदूर रुदल यादव और रामभु यादव अमृतसर-हावड़ा से सुबह के चार बजे पटना स्टेशन पर उतरे. उन्हें मधेपुरा जाना था. उसके बाद उन्होंने सोचा कि वह राजेंद्र नगर टर्मिनल से खुलने वाली सहरसा इंटरसिटी एक्सप्रेस को पकड़ लेंगे और उसके बाद मधेपुरा जायेंगे. इसी बीच इन यात्रियों ने पटना जंक्शन से राजेंद्र नगर जाने के लिए रेलवे ट्रैक से होकर जाने का फैसला किया. दोनों यात्री राजेंद्र नगर जाने के लिए पटना जंक्शन से निकले. वे सड़क मार्ग की जगह रेलवे लाइन के किनारे-किनारे होकर जा रहे थे. इसी बीच पहले से घात लगाये काठपुल के पास बैठे अपराधियों ने उन्हें रोका और उनसे लूटपाट शुरू कर दी. उस वक्त सुबह के साढ़े पांच बज रहे थे. दोनों ने इस लूटपाट का विरोध किया और अपनी गाढ़ी कमाई देने से इनकार कर दिया. उसके बाद लुटेरों ने दोनों के ऊपर चाकू से हमला कर दिया. लुटेरों ने लूटपाट के क्रम में रुदल यादव और रामभु यादव को बुरी तरह चाकू से घायल कर दिया. इसी दौरान रुदल यादव की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. वहीं रामभु यादव गंभीर रूप से घायल हो गये. रेल एसपी ने बताया कि जीआरपी को दूसरी लाश काठपुल के पास ही यार्ड में खड़ी पटना-गया पैसेंजर के अंतिम बोगी से मिली है और उसके शरीर पर भी चाकू मारे जाने के निशान हैं. रेलवे एसपी ने मीडिया को बताया है कि तीसरे यात्री की पहचान अभी नहीं हो सकी है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है और आस-पास के अपराधियों से इसकी पूछताछ की जा रही है. रेल पुलिस इस घटना के बाद सकते में है, वहीं यात्रियों की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. रेल पुलिस का दावा है कि बहुत जल्द अपराधी पुलिस के कब्जे में होंगे. उन्हें छानबीन के दौरान कुछ सूचना मिली है, उसके आधार पर छापेमारी जारी है. हालांकि, अभी तक किसी के गिरफ्तार होने की सूचना नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here