नेपाल PM की मोदी से मांग: हमारे बैंकों, लोगों के बदले जाएं पुराने भारतीय नोट

0
96

नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने शुक्रवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि उसके बैंकों व आम जनता को पुराने भारतीय नोटों को बदलने की सुविधा जल्द से जल्द प्रदान की जाए। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी की घोषणा की। इसके तहत 500 व 1000 रुपये के नोटों का प्रचलन बंद कर दिया गया। भारतीय मुद्रा नोटों का नेपाल में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल दैनिक लेनदेन में होता है। नेपाल के राष्ट्रीय बैंक, नेपाल राष्ट्रीय बैंक के अनुसार लगभग 3.36 करोड़ भारतीय रुपये इस समय नेपाली बैंकिंग प्रणाली में हैं।ओली ने द्विपक्षीय वार्ता के बाद संवाददाताओं से कहा कि मैंने नेपाली बैंकिंग प्रणाली व आम लोगों के पास पड़े पुराने (प्रचलन से बाहर) भारतीय मुद्रा नोटों को बदलने की सुविधा जल्द से जल्द उपलब्ध कराने का आग्रह मोदी जी से किया। मोदी इस समय नेपाल की यात्रा पर हैं।
मोदी, ओली ने पनबिजलीघर की नींव रखी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने पूर्वी नेपाल में प्रस्तावित 900 मेगावाट क्षमता की अरूण – तृतीय पनबिजली संयंत्र की आधारशिला आज संयुक्त रूप से रखी। दोनों नेताओं ने यहां से रिमोट प्रणाली के जरिए इस बिजलीघर की नींव रखी।यह परियोजना पूर्वी नेपाल के तुमलीनगतार क्षेत्र में प्रस्तावित है। इससे नेपाल में 1.! अरब डालर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आने व हजारों रोजगार सृजित होने की उम्मीद है। उल्लेखनीय है कि इन्वेस्टमेंट बोर्ड नेपाल ( आईबीएन ) ने हाल ही में सतलुज जल विद्युत निगम पावर डेवलपमेंट कंपनी को अरूण -3 पनबिजली परियोजना से बिजली उत्पादन का लाइसेंस दिया था। सतलुज जल विद्युत निगम पावर डेवलपमेंट कंपनी भारत सरकार के स्वामित्व वाली सतलुज जल विद्युत निगम की अनुषंगी है। आईबीएन के अधिकारियों का कहना है कि प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली की अध्यक्षता में हुई बैठक में किए गए फैसले के अनुसार यह मंजूरी प्रदान की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here