कर्नाटक चुनाव: दिनभर चले रूझान और नतीजों से जुड़ी जानिए 10 बड़ी बातें

0
121

कर्नाटक में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के बाद सरकार को लेकर अब सस्पेंस पैदा हो गया है। कांग्रेस ने जेडीएस को बाहर से समर्थन देने का ऐलान किया है। जिसके बाद कुमारस्वामी ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा है।
उधर, सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर कर्नाटक चुनाव में उतरने के बाद बीजेपी ने भी सरकार बनाने का दावा किया है। बी.एस. येदियुरप्पा ने परिणाम के मद्देनजर अपनी दिल्ली यात्रा स्थगित कर दी है।
आइये जानते हैं दिनभर की कर्नाटक चुनाव से जुड़ी दस बातें
1- कर्नाटक के चुनाव नतीजों में त्रिशंकु विधानसभा होने की संभावना के मद्देनजर कांग्रेस ने कहा कि वह राज्य में अगली सरकार के गठन में जद(एस) का समर्थन करेगी। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने गुलाम नबी आजाद सहित कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं के साथ एक बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी सरकार बनाने में जद(एस) का समर्थन करेगी। हालांकि, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि कांग्रेस बाहर से समर्थन देगी, या सरकार में शामिल होगी।
2- सिद्धारमैया ने कहा , ” हमने फैसला किया है कि कांग्रेस सरकार बनाने में जद ( एस ) का समर्थन करेगी। यह भाजपा को बाहर रखने ( सत्ता से ) का सर्वश्रेष्ठ रास्ता है।
3- निवर्तमान मुख्यमंत्री सिद्धरमैया चामुंडेश्वरी सीट से हारे। उन्हें जद (एस) के जी टी देवगौड़ा ने 36,042 मतों से हराया। जबकि, सिद्धरमैया ने बादामी सीट पर भाजपा के बी श्रीरामुलू को 1,696 मतों के अंतर से हराया।
4- राकांपा ने आज कहा कि कर्नाटक में भाजपा की जीत अविश्वसनीय है क्योंकि चुनावी नतीजे जमीनी स्थिति से मेल नहीं खाते। शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन दिया था और अपने उम्मीदवार नहीं उतारे थे। राकांपा ने भविष्य में होने वाले चुनावों को मतपत्रों के जरिये कराने की मांग की। महाराष्ट्र राकांपा के अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस अच्छी स्थिति में थी और सिद्धरमैया सरकार के विरूद्ध कोई लहर नहीं थी।
5- कर्नाटक में विधानसभा चुनाव परिणाम की तस्वीर तकरीबन साफ होने के साथ ही कांग्रेस महासचिव मोहन प्रकाश ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि जब लोगों को अपने वोट पर सन्देह होने लगेगा तो फिर लोकतंत्र कमजोर होगा।
6- झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज यहां कहा कि कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी की जीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 4 साल के सुशासन और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की कुशल रणनीति की जीत है।
7- तमिलनाडु में चिरप्रतिद्वंद्वी सत्तारुढ अन्नाद्रमुक और द्रमुक ने कर्नाटक चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने पर आज भाजपा को बधाई दी ।
8- नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने विलियम शेक्सपीयर द्वारा नाटक ‘ जूलियस सीजर में विश्वासघात का भाव जताने के लिये इस्तेमाल की गई लैटिन कहावत का इस्तेमाल कर्नाटक चुनाव के नतीजों पर आश्चर्य प्रकट करने के लिये किया।
9- कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष बीके चंद्रशेखर ने कहा कि पार्टी सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने में नाकाम साबित हुई। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु और दिल्ली में पार्टी नेताओं को कुछ समय पहले ही बेहतर प्लान बनाने चाहिए थे। चंद्रशेखर ने आगे कहा कि चुनाव के दो से तीन साल पहले ही स्ट्रैटेजी बनानी चाहिए।
10- रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह बीजेपी के ऐतिहासिक दिन है और यह जीत पीएम मोदी के विकास के एजेंडे को दिखाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here