राज्यपाल से मिल येदियुरप्पा ने किया सरकार बनाने का दावा, कांग्रेस की बैठक में नहीं पहुंचे 12 MLAs, जेडीएस के 2 विधायक भी नदारद

0
51

कर्नाटक विधानसभा चुनाव नतीजे आने के बाद अब किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के चलते सरकार बनाने की कवायद तेज हो गई है। जेडीएस को कांग्रेस का समर्थन मिलने के बाद भले ही अब अंतिम फैसला राज्यपाल को लेना हो लेकिन दोनों तरफ से पुरजोर कोशिेशें की जा रही है। कांग्रेस-जेडीएस ने जहां बीजेपी पर अपने विधायकों को लालच देकर तोड़ने का आरोप लगाया है। वहीं भाजपा सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त दिख रही है। उनका कहना है कि राजनीति पूरी तरह से संभावनाओं का खेल है।उधर कांग्रेस के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने आज पार्टी के सभी निर्वाचित विधायकों की बैठक बुलाई है। कांग्रेस और जनता दल (सेक्यूलर) ने आरोप लगाया है कि भाजपा हमारे विधायकों को तोड़नेकी कोशिश कर रही है लेकिन हमारे विधायक टूटेंगे नहीं। दूसरी तरफ आज भाजपा ने भी विधायक दल की बैठक बुलाई है और येदियुरप्पा आज सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे।उधर सिद्धारमैया के बैठक बुलाए जाने पर आज सुबह कांग्रेस के सभी निर्वाचित विधायक पार्टी दफ्तर पहुंच गए हैं। इस बैठक में कांग्रेस के महासचिव सांसद केसी वेणुगोपाल और भी शामिल होंगे।
जब कांग्रेस से पूछा गया कि क्या विधायकों को कहीं और शिफ्ट किया जा सकता है। तो इस सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता डीके शिवाकुमार ने कहा कि बिल्कुल अपने विधायकों को बचाने का हमारे पास प्लान है।
उन्होंने कहा कि हमें पता है कि भाजपा हमारे विधायकों को लालच देगी। हरदिन दबाव बढ़ता जाएगा। लेकिन यह आसान नहीं होगा। क्योंकि दो पार्टियों के पास मैजिक नंबर है।जब ये बात सिद्धारमैया से पूछी गई तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी विधायक संपर्क में हैं। कोई भी गायब नहीं है। हम जरूर सरकार बनाएंगे।
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने भी कहा कि हमारी पार्टी से कोई भी कहीं नहीं जा रहा। भाजपा को जो करना है करने दीजिए।कांग्रेस विधायक अमरेगौडा लिंगननगौडा पाटिल बय्यपुर ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुझे भाजपा नेताओं ने फोन किया था। मुझसे कहा गया कि आप हमारे साथ आ जाओ, आपको मंत्री बना देंगे। लेकिन मैं कहीं जाने वाला नहीं हूं। एचडी कुमारास्वामी हमारे मुख्यमंत्री होंगे।वहीं जेडीएस नेता सरवाना ने कहा कि मुझे नहीं पता कि भाजपा हमारे विधायकों को क्या ऑफर कर रही है। लेकिन हमारे लोग साथ हैं। कोई भी हमारी पार्टी को लोगों को छू नहीं सकता।जेडीएस नेता दानिश अली बोले, कांग्रेस और जेडीएस के पास जरूरी नंबर है। मुझे उम्मीद है कि राज्यपाल अपने संवैधानिक कर्तव्यों का पलने करते हुए एचडी कुमारास्वामी को बातचीत के लिए बुलाएंगे। अगर भाजपा राज्यपाल पर दबाव बनाएगी तो ये लोकतंत्र की हत्या होगी।
भाजपा विधायक दल की बैठक आज
बताया जा रहा है कि येदियुरप्पा आज भाजपा विधायक दल के नेता चुने जाएंगे और सरकार बनाने का दावा भी पेश करेंगे।भाजपा नेता केएस ईश्वरप्पा ने भी दावा किया है कि कर्नाटक में सरकार भाजपा ही बनाएगी। ईश्वरप्पा ने कहा कि 100 फीसदी भाजपा ही सरकार बनाएगी। इंतजार कीजिए और देखते रहिए। अभी तो कल ही रिजल्ट आया है। आगे देखते जाइए क्या-क्यो होता है।इससे पहले सुबह से शाम तक मतों की गिनती में भारी उतार चढ़ाव देखने को मिलता रहा। अंत में बीजेपी 104, कांग्रेस 78 और जेडीएस 38 सीट पर आकर रुक गए। दो सीटें अन्य के खाते में गई हैं।नतीजों की तस्वीर साफ होती देख कांग्रेस ने हार को स्वीकारते हुए जेडीएस को समर्थन देने की घोषणा कर दी साथ ही कुमार स्वामी को मुख्यमंत्री बनाने का एलान भी कर दिया। कुमारस्वामी ने भी सरकार बनाने के लिए कांग्रेस के समर्थन का स्वागत किया है। वहीं येदियुरप्पा ने भी सदन में बहुमत साबित करने का दावा किया है।
कांग्रेस-जेडीएस के नेता राज्यपाल से मिले
कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं ने मंगलवार को यहां राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की और कर्नाटक में जेडीएस के नेतृत्व वाली सरकार बनाने का दावा पेश किया। निर्वतमान मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद और मल्लिकार्जुन खड़गे ने जेडीएस के प्रदेश प्रमुख एच डी कुमारस्वामी समेत दोनों पार्टियों के नेताओं ने वाला से मुलाकात की और सरकार गठन के लिये मौका दिये जाने का अनुरोध किया।
कर्नाटक चुनाव: कांग्रेस-भाजपा के पिछड़ने से आगे आई जेडीएस
राज्यपाल से बैठक के बाद कुमारस्वामी ने कहा कि चर्चा के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने हमारी पार्टी के अध्यक्ष को समर्थन देने का पत्र दिया … अपनी पार्टी की तरफ से कांग्रेस नेताओं के साथ हमने राज्यपाल से कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने का अवसर देने का अनुरोध किया। दो निर्दलीय विधायकों का भी हमें समर्थन है।
येदियुरप्पा भी राज्यपाल से मिले
जेडीएस नेता ने कहा कि राज्यपाल ने उन्हें बताया कि वह निर्वाचन आयोग से अधिकृत नतीजे आने के बाद इस पर फैसला लेंगे। कांग्रेस – जेडीएस के इस कदम की काट के लिये भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी एस येदियुरप्पा भी वाला से मिले और सरकार बनाने का दावा पेश किया। सिद्धारमैया ने कहा कि अब तक घोषित नतीजों के मुताबिक हमारे आंकड़े ज्यादा हैं और हमनें राज्यपाल के संज्ञान में भी यह बात डाल दी है । हमें उम्मीद है कि निर्वाचन आयोग से आधिकारिक जानकारी आने के बाद राज्यपाल कानूनी ढांचे के तहत फैसला लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here