वाराणसी में फ्लाईओवर के लिए तीन मंदिर तुड़वाए इसीलिए हुआ हादसाः राज बब्बर

0
125

वाराणसी
‘मुझे जानकारी मिली है कि चुनाव से पहले फ्लाईओवर का काम पूरा करने के लिए तीन विनायक मंदिर तोड़कर निर्माण काम पूरा किया जा रहा था। लोगों का कहना है कि यह हादसा मंदिर तोड़ने की वजह से हुआ है।’ यह बातें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहीं। वह वाराणसी हादसे में घायल हुए लोगों से मिलने अस्पताल पहुंचे थे।राज बब्बर बीएचयू + के ट्रॉमा सेंटर पहुंचे और वहां घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना। राज बब्बर ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अधिकारियों के खिलाफ तो सरकार ने कार्रवाई कर दी है, लेकिन अब कैबिनेट मंत्रियों को भी सस्पेंड किया जाना चाहिए।
वाराणसी हादसाः घायल बोला, यकीन नहीं हो रहा कि वह जिंदा है
उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों को जो पांच लाख मुआवजा + दिया गया है, वह काफी नहीं है। उन्हें 50-50 रुपये लाख मुआवजा दिया जाना चाहिए। राज बब्बर ने आरोप लगाया कि अधिकारियों पर 2019 लोकसभा चुनाव से पहले फ्लाइओवर का काम पूरा करने का दबाव था। वे इसी दबाव में काम कर रहे थे और इसके चलते उन्होंने सुरक्षा मानकों पर ध्यान नहीं दिया।राज बब्बर + ने कहा कि लोगों ने उन्हें बताया कि काम जल्दी करने के चक्कर में तीन विनायक मंदिर तोड़ दिए गए। लोगों का मानना है कि यह हादसा मंदिर तोड़े जाने के कारण हुआ है। उन्होंने कहा कि घटना पर प्रदेश के सेतु निर्माण मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।राज बब्बर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी + पर हमला बोलते हुए कहा कि जिस सांसद के संसदीय क्षेत्र में घटना होती है, वह वहां जरूर जाता है लेकिन वाराणसी के सांसद का यहां न आना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। कर्नाटक के लिए आधा दर्जन केंद्रीय मंत्री रवाना हो गए लेकिन वाराणसी में कोई नहीं लाया। लगता है कर्नाटक के जश्न के आगे काशी के कराहने की आवाज गुम हो गई है।उन्होंने कहा कि फ्लाईओवर का निर्माण कार्य तत्काल रोका जाए। घटना की निष्पक्ष जांच और सही कार्रवाई नहीं हुई तो कांग्रेस पार्टी प्रदेश भर में आंदोलन करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here