IPL 2018: बैंगलोर और मुंबई की प्ले ऑफ की राह नहीं आसान, अब बन रहा है ऐसा समीकरण

0
1422

नई दिल्ली
विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेटों से हरा दिया। 71 गेंद शेष रहते मिली इस जीत ने RCB के साथ ही मुंबई इंडियंस को भी राहत पहुंचाई है। पंजाब की इस हार के बाद प्ले ऑफ का पूरा समीकरण ही बदल गया है। जहां शुरुआत में प्ले ऑफ के लिए सबसे मजबूत टीम दिख रही पंजाब की राह अब मुश्किल होते दिख रही है तो बाहर होते दिख रही बैंगलोर की किस्मत चमकने लगी है। प्ले ऑफ में सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नै सुपर किंग्स टीम पहले ही पहुंच चुकी हैं। बचे 2 स्थानों के लिए 5 टीमें दौड़ में हैं। आइए जानें फिलहाल क्या है प्ले ऑफ का समीकरण…
कोलकाता नाइट राइडर्स: 13 मैच, 7 जीत, 6 हार, 14 पॉइंट्स, नेट रनरेट -0.091
कोलकाता नाइट राइडर्स फिलहाल 13 मैचों में 14 पॉइंट्स के साथ तीसरे नंबर पर है। मुंबई से मिली 102 रनों की शर्मनाक हार के बाद उसने जोरदार वापसी करते हुए पंजाब और राजस्थान को हराया। इसके साथ ही उसकी प्ले ऑफ के लिए क्वॉलिफाइ करने की राह आसान हो गई है। हालांकि, उसकी किस्मत काफी कुछ राजस्थान और किंग्स इलेवन पंजाब की हार पर भी निर्भर है। रन रेट के मामले में केकेआर (-0.091), मुंबई (+0.405) और बैंगलोर (+0.218) से कमजोर है, जो उसकी राह में रोड़ा बन सकती है।
राजस्थान रॉयल्स: 13 मैच, 6 जीत, 7 हार, 12 पॉइंट्स, नेट रन रेट -0.347
टूर्नमेंट में खराब शुरुआत के बाद जोरदार कमबैक करने वाली राजस्थान रॉयल्स की टीम फिलहाल चौथे नंबर पर है। कोलकाता से मिली हार के बाद उसकी प्ले ऑफ की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। इस हार के बाद वह और केकेआर चाहेगी कि वह अंतिम मुकाबला जीते और मुंबई-बैंगलोर एक मैच हार जाए, क्योंकि दोनों टीमों का रन रेट बेहतर है। अगर ये टीमें दोनों मुकाबले जीतेंगी तो 14-14 पॉइंट्स हो जाएंगे। अब फैसला रन रेट से होगा।किंग्स इलेवन पंजाब: 12 मैच, 6 जीत, 6 हार, 12 पॉइंट्स, नेट रन रेट -0.518
क्रिस गेल, लोकेश राहुल, एंड्रू टाय और मुजीब उर रहमान ने शुरुआत में जिस तरह से किंग्स इलेवन पंजाब को जीत दिलाई थी, उससे वह प्ले ऑफ की सबसे मजबूत टीम दिख रही थी। लेकिन, पिछले तीन मुकाबलों मिली हार के बाद वह पिछड़ते दिख रही है। खासकर बैंगलोर के खिलाफ मिली 10 विकेटों की हार के बाद उसका रन रेट बेहद खराब हो गया है। अगर उसे अगर प्ले ऑफ में पहुंचना है तो मुंबई इंडियंस और चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाफ होने वाले आखिरी दोनों मैचों में जीत दर्ज करनी होगी। पंजाब का एक जीत से काम नहीं चलने वाला है, क्योंकि रन रेट के मामले में वह अन्य टीमों से पिछड़ सकती है।
मुंबई इंडियंस: 12 मैच, 5 जीत, 6 हार, 10 पॉइंट्स, नेट रन रेट 0.405
मुंबई के भले ही 12 मैचों में 10 पॉइंट्स, लेकिन पॉजिटिव रन रेट उसके लिए खुशी की बात है। पंजाब को मिली बैंगलोर से हार ने उसे एक और लाइफ लाइन दे दिया है। मुंबई अगर अपने दोनों मुकाबले पंजाब और दिल्ली के खिलाफ जीत जाती है तो वह आसानी से प्ले ऑफ में पहुंच जाएगी। एक मुकाबला हारने पर भी रन रेट के आधार पर मौका मिल सकता है, लेकिन ऐसा तब होगा जब अन्य टीमों के भी 14 की बजाय 12 पॉइंट्स होंगे और रन रेट में मुंबई अव्वल रहेगी।
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर: 12 मैच, 5 जीत, 6 हार, 10 पॉइंट्स, नेट रन रेट 0.218
मुंबई की तरह बैंगलोर के लिए भी बेहतर रन रेट राहत की बात है। हालांकि, उसे भी दोनों मुकाबले जीतने होंगे। इतना ही नहीं, पंजाब और केकेआर को कम से कम एक मुकाबला हारना होगा। दो मुकाबले जीतने पर RCB के 14 पॉइंट्स हो जाएंगे और अगर बेहतर रन रेट रहा तो वह क्वॉलिफाइ कर लेगी। पंजाब के खिलाफ मिली 10 विकेटों की बड़ी जीत ने उसे लाइफ लाइन दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here