उत्तर-पूर्व से लेकर राजस्थान तक अपना आधार मजबूत करने में जुटा जदयू

0
3765

जदयू उत्तर-पूर्व से राजस्थान तक अपना आधार मजबूत करने में लगा है।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 30 मई को राजस्थान के बांसवाड़ा जाएंगे और 20 मई को मणिपुर में जदयू का राजनीतिक सम्मेलन होगा।
पटना । जदयू उत्तर-पूर्व से लेकर राजस्थान तक अपने आधार को मजबूत करने में लगा है। उत्तर-पूर्व को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी गंभीर हैं और इस साल के अंत में राजस्थान में विधानसभा चुनाव भी होना है। ऐसे में राजस्थान में संगठन को मजबूत करने के लिए जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 30 मई को बांसवाड़ा जायेंगे।चुनाव से पहले उत्तर-पूर्व में संगठन को मजबूत करने के लिए जदयू 20 मई को मणिपुर में राजनीतिक सम्मेलन करने जा रहा है। इसके अलावा वहां पार्टी मुख्यालय का भी उद्घाटन किया जायेगा और सम्मेलन के मुख्य अतिथि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी होंगे।पार्टी महासचिव केसी त्यागी, राज्यसभा सांसद हरिवंश और राष्ट्रीय सचिव अशफाक अहमद की तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गयी है, जो उत्तर-पूर्व में पार्टी का आधार तैयार करने की दिशा में काम कर रही है।केसी त्यागी ने बताया कि कि उत्तर-पूर्व समाजवादियों का गढ़ रहा है। लोहिया और जेपी अक्सर इन राज्यों का दौरा करते थे। 2002 में जाॅर्ज फर्नांडीस और नीतीश कुमार के दौर में मणिपुर में समता पार्टी की सरकार भी रही है।इसे देखते हुए पार्टी ने अगले लोकसभा चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष को उम्मीदवार बनाने पर विचार कर रहे हैं।मालूम हो कि जदयू नागालैंड और मणिपुर में हुए विधानसभा चुनावों में भी उतरा था और नागालैंड में वह सरकार में शामिल है।वहीं, मुख्यमंत्री के राजस्थान दौरे की बेचैनी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि शरद यादव की पार्टी लोकतांत्रिक जनता दल के अध्यक्ष भी बांसवाड़ा के रहने वाले पूर्व विधायक फतेह सिंह को बनाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here