कर्नाटक का रणः विधायकों को साथ रखने में जुटी रही कांग्रेस-जेडीएस, 12 घंटे में हैदराबाद से बेंगलुरु रवाना

0
49

कर्नाटक में सत्ता के लिए चल रहे संघर्ष के बीच जेडीएस और कांग्रेस अपने नवनिर्वाचित विधायकों को साथ रखने की कवायद में जुटे रहे। इसके तहत हैदराबाद से जेडीएस और कांग्रेस विधायक गुरुवार रात को बेंगलुरु के लिए रवाना हुए। इससे पहले खरीद-फरोख्त के डर से इन विधायकों को गुरुवार को रातों-रात हैदराबाद ले जाया गया था। कांग्रेस विधायकों को हैदराबाद के पांच सितारा होटल ताज कृष्ण जबकि जेडीएस विधायकों को नोवोटेल होटल में ठहराया गया था।कांग्रेस और जेडीएस ने यह फैसला बीएस येदियुरप्पा द्वारा गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद लिया। इससे पहले कांग्रेस विधायक बेंगलुरु के इगलटन रिसॉर्ट में ठहरे थे। जबकि जेडीएस के विधायक शांगरी ला होटल में रुके थे। जेडीएस ने गुरुवार रात को आरोप लगाया था कि जिन चार्टर्ड विमानों से विधायकों को बेंगलुरु से कोच्चि ले जाना था, उन्हें नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने आखिरी मिनट पर उड़ान भरने की अनुमति नहीं दी। इसके बाद कांग्रेस और जेडीएस ने विधायकों को बस से हैदराबाद ले जाने का प्लान बनाया। इसके बाद गुरुवार रात 12 बजे इगलटन से कांग्रेस और शांगरी ला होटल से जेडीएस विधायकों को बस से हैदराबाद के लिए रवाना किया गया।
कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए सिद्धरम्मैया
हैदराबाद के एक होटल में गुरुवार को कांग्रेस विधायकों ने कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरम्मैया को अपना नेता चुना। इस दौरान सिद्धरम्मैया ने हैदराबाद के ताज कृष्ण होटल में हुई बैठक के दौरान विधायकों को विधानसभा में शक्तिपरीक्षण के लिए दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान कांग्रेस के 76 विधायक मौजूद थे।
भाजपा ने दो विधायकों को अगवा किया : कुमारस्वामी
कर्नाटक में सियासी ड्रामे के बीच जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने भाजपा पर विधायकों के अपहरण करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमारे दो विधायकों को कैद कर लिया है। लेकिन हमें पूरा विश्वास है कि हमारे विधायक हमारे पास लौट आएंगे।
भाजपा के कुछ विधायक टूटने वाले हैं : दिग्विजय
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा है कि कनार्टक में भाजपा के कुछ विधायक टूटने वाले हैं उनकी सूची आ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि कनार्टक में कांग्रेस एवं जेडीएस में कोई विधायक नहीं टूटेगा बल्कि भाजपा के लोग टूटेगें और भाजपा से टूटने वालों की सूची कांग्रेस के पास आ गई हैं।
नियुक्ति पर रारः कर्नाटक प्रोटेम स्पीकर मामले में SC में सुनवाई आज
बीच रास्ते में बसों में विधायकों की अदला-बदली
सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा के चलते बेंगलुरु से हैदराबाद जाते समय बीच रास्ते में विधायकों की अदला-बदली भी की गई। जिन बसों से इन विधायकों को ले जाया गया वे लग्जरी सुविधाओं से लैस थीं। स्लीपर कोच वाली बसों में पानी, कंबल और खाने के अलावा भी कई चीजें मुहैया कराईं गईं जो इस थकान वाली यात्रा से निजात दिला सके।
आठ घंटे में 500 किमी का सफर
बेंगलुरु से हैदाराबाद की दूरी लगभग 500 किलोमीटर की है। इस सफर में आठ घंटे का समय लगा।
शादी की पार्टी के नाम पर होटल बुक किया बताया जा रहा है कि तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस प्रमुख उत्तम कुमार रेड्डी को पार्टी की तरफ से गुरुवार रात में हैदराबाद में 100 से ज्यादा कमरे बुक करने के लिए कहा गया। इसके बाद रेड्डी ने अपने भरोसेमंद लोगों को यह काम सौंपा। लेकिन इतनी जल्दी एक जगह 100 कमरे मिलना मुश्किल था। इस दौरान शहर से बाहर स्थित रिसॉर्ट और पार्क हयात में कमरे बुक करने की कोशिश की गई लेकिन नहीं मिला। इसके बाद एक वरिष्ठ नेता होटल ताज कृष्ण पहुंचे। इसके बाद वहां शादी की पार्टी के नाम पर 100 से ज्यादा कमरे बुक किए गए। इसके लिए होटल को 12 लाख रुपये दिए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here