जानें निपाह वायरस ने कैसे केरल के एक परिवार को तबाह किया

0
79

केरल में कोझिकोडे जिले के 62 वर्षीय वालाचेकुट्टी मूसा ने निपाह वायरस के कहर में अपने घर के तीन सदस्यों को हमेशा के लिए खो दिया। अभी बेटे की प्रेमिका इस घातक वायरस से संक्रमित है और जिंदगी की जंग लड़ रही है। मूसा के घर के सदस्य 5 मई से 19 मई तक एक ऐसी बीमारी से पीड़ित रहे जिसे तब एक रहस्यमई बीमारी माना गया।निपाह वायरस के संक्रमण में अब 12 लोगों की मौत हो चुकी है जिसमें मरीजों का इलाज करने वाली एक नर्स भी शामिल है। जानवरों से इंसानों में फैलने वाली इस अजीब बीमारी के बारे में केरल में पहले कभी नहीं सुना गया था।अभी सोमवार को पो पता चला कि इस जानलेवा बीमारी से मूसा भी पीड़ित है। उसने अपने बेटे मुहम्मद सलियाह, मुहम्मद सादिक और अपने भाई की पत्‍नी मरियम्मा को खो दिया। इन सभी की अस्पताल में देखरेख कर रही नर्स लिनी भी निपाह वायरस से संक्रमित हो गई और अपनी जान गंवा बैठी।एक शैक्षणिक संस्था में कलेक्शन एजेंट का काम कर रहे मूसा ने अभी भयंक बुखार सेर पीड़ित है लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर है। सो साल पहले उसने अपना एक बेटा सड़क दुर्घटना के खो दिया था।मूसा के अलावा जिन लोगों का इलाज चल रहा है उनमें मूसा के बेटे की प्रेमिका आतिफा (19) का भी इलाज चल रहा है। सलियाह कतर में सिविल इंजीनियर था और वहां से अब नौकरी छोड़ने वाला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here