दिल्ली रिकॉर्ड गर्मी की चपेट में, फिलहाल राहत के आसार नहीं

0
56

राजस्थान और पाकिस्तान से आ रही गर्म हवा के कारण दिल्ली इस वक्त रिकॉर्डतोड़ गर्मी की चपेट में है। हाल -फिलहाल इससे राहत के आसार भी नहीं हैं।
नई दिल्ली। राजस्थान और पाकिस्तान से आ रही गर्म हवा के कारण दिल्ली इस वक्त रिकॉर्डतोड़ गर्मी की चपेट में है। हाल -फिलहाल इससे राहत के आसार भी नहीं हैं। मंगलवार को पालम में अधिकतम तापमान 46.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पिछले छह वर्षो के दौरान 22 मई के दिन इतना अधिक तापमान कभी दर्ज नहीं किया गया। हालांकि मौसम विभाग ने औसत अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 44.0 डिग्री सेल्सियस, जबकि औसत न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। उधर हरियाणा के बहादुरगढ़ और गुरुग्राम में भी अधिकतम तापमान 46 डिग्री पर पहुंच गया।स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि सूखा मौसम होने के कारण दिल्ली में 28 मई तक तापमान और गर्मी का हाल कुछ ऐसा ही रहेगा। 29 मई को मौसम के करवट लेने के आसार हैं। इस दौरान हल्की बारिश भी हो सकती है और तापमान में गिरावट आ सकती है। उधर हरियाणा में हिसार, नारनौल, भिवानी, सोनीपत, फरीदाबाद और जींद का अधिकतम तापमान 45 डिग्री या इससे अधिक रहा।
उत्तराखंड में झुलसने लगे मैदान और पहाड़
आने वाले तीन से चार दिन उत्तराखंड लू के थपेड़ों से बेचैन रहेगा। मौसम विभाग ने इस आशय की चेतावनी जारी की है। राज्य में इन दिनों पहाड़ और मैदान भीषण गर्मी की चपेट में है। मैदानी क्षेत्रों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार है, वहीं पहाड़ों में भी यह 29 से 39 डिग्री के बीच है।
छत्तीसगढ़ में भीषण गर्मी से सूखे 450 से अधिक बोर
छत्तीसगढ़ के कई क्षेत्रों में भीषण गर्मी से 450 से अधिक बोर(पंप) सूख चुके हैं। जल निगम बिलासपुर के सहायक अभियंता अजय श्रीवासन ने बताया कि भीषण गर्मी से भूजल स्तर में तेजी के साथ गिरावट दर्ज की गई है। 46 जगहों के बोरवेल में 10 से 20 फीट अतिरिक्त पाइप डाल कर किसी तरह पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है।
उप्र में इलाहाबाद रहा सबसे गर्म
उत्तर प्रदेश में मंगलवार को इलाहाबाद सबसे गर्म शहर रहा जहां तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक 46.3 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। बांदा में भी अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं झांसी, हमीरपुर, आगरा व उरई में तापमान 45 डिग्री के पार चला गया। दूसरी ओर कन्नौज में साकार विश्व हरि के सत्संग स्थल से वापस लौटते समय भीषण गर्मी के चलते 60 वर्षीय बुजुर्ग तेजपाल की मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here