35 साल बाद 8 महायोगों में मनेगा गंगा दशहरा

0
112

दशहरा जितना बलवान होता है, उसी के अनुसार देश के लोगों को लाभ मिलता है। इस बार गंगा दशहरा पर 10 में से 8 योग घटित हो रहे हैं। शास्त्रनुसार ज्येष्ठमास शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा का अवतरण दिवस माना जाता है। त्रृग्वेद, अर्थवेद, स्कंदपुराण, वाल्मीकि रामायण, महाभारत में पाप नाशिनी, मोक्षदायनी, गंगानदी का यशोगान मिलता है। इस बार 24 मई गुरुवार को गंगा दशहरा है।

ज्योतिषाचार्य पं. सतीश सोनी के अनुसार महाराज भागीरथ के कठोर तप से प्रसन्न होकर स्वर्ग से गंगा माता पृथ्वी पर अवतरित हुई थीं। गंगा दशहरा वाले दिन गंगा में स्न्नान करने से बहुत लाभ मिलता है। यदि ऐसा संभव नहीं हो तो घर में मौजूद पानी में थोड़ा-सा गंगा जल डालकर भी स्नान करने से गंगा स्नान का फल प्राप्त होता है।

इसके अलावा भगवान शिव, सूर्य और हिमालय का पूजन विशेष फलदायी होता है। साथ ही इस दिन जप, तप तथा दान उपवास करने से सभी तरह के पाप नष्ट होते हैं और मनुष्य के सभी मनोरथ पूरे होते हैं।

गंगा दशहरा पर बनेंगे यह 8 महायोग

1 – ज्येष्ठ माह, 2 – शुक्लपक्ष, 3 – दशमी तिथि, 4 – चंदमा कन्याराशि में, 5 – सूर्य वृषभ राशि में, 6 – करण (गर), 7 – उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र उपरांत हस्त नक्षत्र, 8 – अधिकमास (पुरुषोत्तम मास)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here