केरल में झमाझम बारिशः ये मॉनसून है या नहीं, स्काईमेट और मौसम विभाग में मतभेद

0
80

गर्मी से राहत के लिए देशभर में बारिश का इंतजार किया जा रहा है। सोमवार को केरल में अच्छी बारिश हुई है, हालांकि यह मॉनसून की दस्तक है या नहीं, इसको लेकर मतभेद है। दरअसल केरल में कल सोमवार से झमाझम बारिश हो रही है। इस पर प्राइवेट एजेंसी स्काइमेट वेदर ने घोषणा की है कि राज्य में मॉनसून पहुंच गया है और इसके साथ ही भारत में बारिश के मौसम की शुरुआत हो गई है। लेकिन वहीं भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) का कहना है कि मॉनसून अगले 24 घंटे में यानी आज (मंगलवार) को केरल में दस्तक देगा।मौसम पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक मानसून ने चार दिन पहले ही सोमवार को केरल में दस्तक दे दी है। वहीं, भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 घंटे में मानसून केरल पहुंचेगा। हालांकि, सोमवार सुबह केरल के कई इलाकों में जबरदस्त बारिश हुई है। केरल में आमतौर पर मानसून 1 या 2 जून को आता है।स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह ने बताया कि केरल पर मानसून जैसी स्थितियां बन गई हैं। केरल के सभी मौसम केंद्रों पर दो दिन से बारिश रिकॉर्ड की गई है। हवा की गति भी मौसम के अनुकूल है। ऐसे में लगता है कि मानसून केरल पहुंच चुका है।कुछ दिन पहले मौसम वैज्ञानिकों ने कहा था कि देश के उत्तरी इलाकों में आंधी-तूफान के असर से इस बार मानसून 4-5 दिन पहले आ सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगर केरल और उससे सटे दूसरे राज्यों के 14 मौसम केंद्रों में 60 फीसदी पर दो दिन लगातार 2.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज होती है तो माना जाता है कि मानसून ने दस्तक दे दी है।मौसम विभाग के मुताबिक, इस साल देश में मानसून की गतिविधियां सामान्य रहेंगी। जून से सितंबर के बीच 97 फीसदी बारिश की उम्मीद है। दक्षिण अरब सागर में मानसून की स्थिति मजबूत है। मंगलवार सुबह तक इसके मालदीव, केरल के तटीय इलाके, तमिलनाडु, बंगाल की खाड़ी और अंडमान-निकोबार के ऊपर छाने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here