राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल 30-31 मई को, आज ही निपटा लें जरूरी काम

0
115

वेतन में बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर बैंक कर्मचारियों ने 30 और 31 मई को दो दिवसीय हड़ताल का आह्वान किया है। सरकार एवं आईबीए के अड़ियल एवं नकारात्मक रवैये के खिलाफ यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने हड़ताल का आह्वान किया। इस राष्ट्रव्यापी हड़ताल में सभी राष्ट्रीयकृत बैंक, निजी क्षेत्र के बैंक एवं कुछ विदेशी बैंक भी शामिल होंगे। भारतीय बैंक संघ (आईबीए) ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के कर्मचारियों के वेतन में केवल 2 प्रतिशत की वृद्धि का पेशकश की है, जिसका बैंक कर्मचारी संघों ने विरोध किया है।इस प्रस्‍ताव का विरोध करते हुए ‘यूनाइटेड फॉरम ऑफ बैंक यूनियन’ के संयोजक देवीदास तुलजापुरकर ने कहा कि बैंकों को जो नुकसान हो रहा है, उसका कारण एनपीए यानी बैड लोन है। इस नुकसान के लिए बैंक कर्मचारी जिम्मेदार नहीं हैं। बैंकों में कार्यरत कर्मचारी एवं अधिकारियों के नौ यूनियन के संयुक्त संगठन यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियन ने वेतन समझौते को लेकर मांग पत्र इंडियन बैंक एसोसिएशन को मई 2017 में ही सौंप चुका है।उन्होंने कहा कि पिछले दो-तीन साल से बैंक कर्मचारियों ने जन-धन, नोटबंदी, मुद्रा योजना और अटल पेंशन योजना समेत अन्य योजनाओं को सुचारू रूप से चलाने में बड़ी भूमिका निभाई है। इससे कर्मचारियों पर काम का बोझ काफी बढ़ा है। ऐसे में उनके वेतन में महज 2 फीसदी के इजाफा का प्रस्‍ताव चौंकाने वाला कदम है। गौरतलब है कि पिछले वेतन प्रावधान में आईबीए ने 15 फीसदी के वेतन इजाफे का प्रस्ताव दिया था। यह नवंबर 1, 2012 से 31 अक्टूबर, 2017 के बीच की अवधि के लिए था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here