शर्मनाक घटना: दुष्कर्म पीडि़ता को नहीं मिली एंबुलेंस, कंधे पर ले गए परिजन

0
117

बिहार के मुजफ्फरपुर में दुष्कर्म पीडि़ता को जहां इलाज व जांच के लिए दो दिन तक भटकना पड़ा। यही नहीं, एंबुलेंस नहीं मिलने पर परिजन अपनी लाडली को कंधे पर लेकर जाने को मजबूर हुए।
मुज़फ्फरपुर । बिहार के मुजफ्फरपुर में एक शर्मनाक घटना सामने आयी है। यहां सदर अस्पताल में दुष्कर्म पीडि़ता को इलाज व जांच के लिए दो दिन तक भटकना पड़ा। वहीं इलाज के बाद एंबुलेंस नहीं मिलने पर परिजन अपनी लाडली को कंधे पर लेकर जाने को मजबूर हुए। डरे-सहमे परिजन अस्पताल से नाम कटने के बाद किसी तरह से उसे लेकर घर चले गए।अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार, सरैया थाना क्षेत्र की रहने वाली पीडि़ता से सकरा क्षेत्र में दरिंदों ने दुष्कर्म किया था। इस मामले में जिलाधिकारी मो.सोहैल ने इलाज में लापरवाही को गंभीरता से लेते हुए वरीय उपसमाहर्ता की देखरेख में बच्ची की जांच कराई। उसके बाद महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणी मिश्रा ने आकर बच्ची के इलाज का जायजा लिया।बावजूद इसके सदर अस्पताल प्रबंधन व कर्मियों ने पीडि़ता के साथ लगातार उपेक्षा का भाव रखा। सोमवार को करीब चार बजे उसका नाम काटकर जाने को कहा गया। सदर अस्पताल के प्रबंधक प्रवीण कुमार ने बताया कि परिजन अपनी मर्जी से उसे ले गए हैं। पीडि़ता के जाने की जानकारी उन्हें भी नहीं है।इस संबंध में पूछे जाने पर जिला स्वास्थ्य प्रबंधक बीपी वर्मा ने कहा कि अस्पताल से बच्चे, वृद्ध, प्रसूति व जरूरतमंद को एंबुलेंस से ही घर भेजना है। पीडि़ता को एंबुलेंस उपलब्ध नहीं कराना लापरवाही है। उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। सदर अस्पताल के प्रबंधक से रिपोर्ट मांगी गई है। उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here