BSF-पाक रेंजर्स फ्लैग मीटिंग: भारत ने कहा- उकसाया तो मिलेगा करारा जवाब

0
47

भारत ने सोमवार को स्पष्ट किया कि अगर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की ओर से संघर्षविराम का उल्लंघन किया गया तो मुहंतोड़ जवाब दिया जाएगा। जम्मू की चुंगी चौकी पर बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच सेक्टर कमांडर स्तर (बीएसएफ के उप महानिरीक्षक-रेंजर्स के ब्रिगेडियर) की बैठक में भारत ने कहा कि उसकी ओर से बिना उकसावे के गोलीबारी नहीं की जाएगी। बैठक में भारत और पाकिस्तान ने सोमवार को जम्मू् और कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शांति सुनिश्चित करने के लिए गोलीबारी रोकने का फैसला किया।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 15 मिनट चली बैठक के दौरान दोनों पक्षों ने परस्पर विश्वास का निर्माण करने का फैसला किया और पाकिस्तानी पक्ष ने एक बार फिर सीमा पर शांति सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया है। साथ ही पाकिस्तान ने कहा है कि जब भी जरूरत पड़ेगी, बीएसएफ के साथ संवाद सुनिश्चित करेंगे। बीएसएफ ने भी सकारात्मक जवाब देते हुए कहा कि वह उकसाए जाने पर ही जवाबी कार्रवाई करेगा।उन्होंने कहा, सोमवार की बैठक से खासकर दोनों देशों के सीमाई इलाके के ग्रामीणों के लिए गोलीबारी मुक्त माहौल बन सकता है। दोनों पक्षों के कमांडर ने दोनों बलों के बीच विश्वास के निर्माण के लिए हर स्तर पर बातचीत जारी रखने पर सहमति जताई। अधिकारी ने कहा कि शाम साढ़े 5 बजे शुरू हुई बैठक एक अनुकूल माहौल में खत्म हुई और उसमें मुख्य रूप से सीमा पर शांति बनाए रखने पर ध्यान दिया गया। उन्होंने बताया कि दोनों पक्षों ने 21 जून को फिर से बैठक करने का फैसला किया।आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान ने इस साल जनवरी से 31 मई के बीच जम्मू और कश्मीर में 1,252 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। रविवार को जम्मू जिले के अखनूर सेक्टर में पाकिस्तान की गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान शहीद हो गए और 16 लोग घायल हो गए। इसके साथ ही इस साल राज्य में पाकिस्तान की गोलीबारी में मारे गए लोगों की संख्या 46 हो गई जिनमें 20 सुरक्षाकर्मी शामिल हैं। बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सोमवार तड़के अखनूर सेक्टर में पाकिस्तानी बलों ने थोड़ी-थोड़ी देरी पर गोलाबारी की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here