गूगल ने डूडल बना बच्चों को ‘जीवन दान’ देने वाली डॉक्टर को किया याद

0
209

गूगल ने आज बच्चों को नया जीवन देने वाली अमेरिका की एनेस्थिसियॉलॉजिस्ट डॉक्टर वर्जीनिया अपगार को याद किया। उनके 109वें जन्मदिन के मौके पर गूगल ने डूडल बनाया है। इस डूडल में डॉक्टर वर्जीनिया को एक लेटर पैड और पेन पकड़े हुए दिखाया गया है, जिसमें वह डूडल में बने एक नवजात शिशु के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी नोट कर रही हैं। वर्जीनिया अपगार को ‘अपगार स्कोर’ बनाने के लिए जाना जाता है। इसके जरिए नवजात शिशु के स्वास्थ्य का पता लगाया जाता है।
क्या है अपगार स्कोर
ए से एक्टिविटी, पी से पल्स, जी से ग्रिमेन्स, ए से एपिरेन्स और आर से रेस्पिरेशन।
एक्टिविटी(मसल टोन)
0 लंगड़ाहट, कोई गतिविधि नहीं
1 हाथ और पाँव में कुछ मुड़ाव
2 एक मिनट में कम से कम 100 धड़कन
धड़कन
0 कोई धड़कन नहीं
1 एक मिनट में 100 से कम धड़कन
2 एक मिनट में 100 धड़कन
दिखावट (रंग)
0 बच्चे का पूरा शरीर नीले सिलेटी या पीले रंग का
1 शरीर में अच्छा रंग साथ में हाथ और पाँव में नीला सा रंग
2 हर जगह अच्छा रंग
सांस लेना
0 सांस नहीं ले रहा है
1 धीमे रो रहा है, अनियमित सांस लेना
2 अच्छी तरह से रोना, और सांस भी नियमित होनी
डॉक्टर वर्जीनिया प्रतिष्ठित कोलंबिया यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ फिज़िशियंस एंड सर्जंस में प्रोफेसर बनने वाली पहली महिला थां। यह उपलब्धि 1949 में उनके खाते में जुड़ी। डॉक्टर ऐपगार और उनके साथियों ने 1950 के दौरान अमेरिका में शिशु मृत्यु दर के बढ़ने के दौरान कई हजार नवजात बच्चों के स्वास्थ्य के बारे में पता लगाया। 1960 तक, किसी बच्चे के पैदा होने के 24 घंटे के अंदर उसके स्वास्थ्य का पता लगाना बेहद आसान हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.